प्रियंका गांधी से मिले नवजोत सिंह सिद्धू, राहुल गांधी से मुलाकात का वक्त अभी तय नहीं

पंजाब कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने आज कांग्रेस पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी से दिल्ली में मुलाकात की है। मुलाकात के बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने प्रियंका के साथ एक तस्वीर अपने ट्विटर हेंडल पर शेयर की है और साथ में लिखा है कि, ‘प्रियंका गांधी के साथ एक लंबी मुलाकात हुई”। नवजोत सिंह सिद्धू मंगलवार को पटियाला से दिल्ली आए थे और उनका प्रियंका गांधी तथा राहुल गांधी से मुलाकात का कार्यक्रम था। सुत्रों से मिली जानकारी के अनुसार राहुल गांधी ने अभी तक नवजोत सिंह सिद्धू को मुलाकात के लिए समय नहीं दिया है।

Get-Detailed-Customised-Astrological-Report-on

पंजाब में अगले साल विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं और विधानसभा चुनावों से ठीक पहले सिद्धू ने पंजाब के मुख्यमंत्री कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ बगावत कर दी है। कांग्रेस पार्टी का शीर्ष नेतृत्व चुनावों से पहले दोनों नेताओं के बीच की कलह को खत्म करने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है लेकिन अभी तक सिद्धू और कैप्टन के बीच रिश्ते सामान्य नहीं हो पाए हैं।

कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने सिद्धू और कैप्टन के बीच की लड़ाई खत्म करने के लिए पार्टी के 3 नेताओं की एक कमेटी बनाई थी और उस कमेटी के सामने पंजाब कांग्रेस के सभी वरिष्ठ नेता, कांग्रेस विधायक और सांसद पेश हुए थे। सिद्धू और कैप्टन की भी कमेटी के सामने पेशी हुई थी। सभी नेताओं की पेशी के बाद कमेटी ने अपनी रिपोर्ट पार्टी अध्यक्षा सोनिया गांधी को सौंप दी थी। जिस समय कमेटी के सामने पेश होने के लिए सिद्धू और कैप्टन दिल्ली आए थे उस समय राहुल और प्रियंका गांधी ने उनसे मुलाकात नहीं की थी लेकिन आज प्रियंका गांधी ने सिद्धू के साथ मुलाकात की है और इस मुलाकात के कई अर्थ निकाले जा रहे हैं।

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

दरअसल 2017 के पंजाब विधानसभा चुनावों से पहले सिद्धू ने भारतीय जनता पार्टी का दामन छोड़कर कांग्रेस पार्टी ज्वाइन कर ली थी और उस साल कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी कह दिया था कि वह उनका अंतिम चुनाव होगा। लेकिन अब कैप्टन अमरिंदर सिंह कह रहे हैं कि वे इस बार भी विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखकोरोना से जिन परिवारों में मौतें हुई हैं उन्हें मिलेगा मुआवजा, 6 हफ्ते के अंदर केंद्र को देनी होगी गाइडलाइन
अगला लेखये 4 आदतें आपको कर सकती हैं बीमार, कमजोर होगी इम्यूनिटी भी