वास्तु टिप्स: घर में न रखें खंडित मूर्तियां, आती है दरिद्रता

वास्तु शास्त्र में आज आचार्य इंदु प्रकाश से जानें, मंदिर में रखी दूषित मूर्तियों के बारे में। जाने-अनजाने कई बार भगवान की मूर्ति हाथ से छूट जाती है जिसके चलते उनमें दरार आ जाती है या किसी हिस्से से उनकी किनारी झड़ जाती है, लेकिन अपनी पसंद के चलते या फिर यूं ही कुछ लोग उन मूर्तियों को दूषित होने के बाद भी मंदिर में रखे रखते हैं जो कि वास्तु शास्त्र के अनुसार बिल्कुल ठीक नहीं है। 

किसी भी मूर्ति को दूषित होने के बाद घर में या मंदिर में नहीं रखना चाहिए, उसे तुरंत हटा देना चाहिए और किसी पवित्र नदी में विसर्जित कर देना चाहिए या फिर किसी पीपल के पेड़ के नीचे रख दें। घर में भगवान की दूषित मूर्तियां रखने से वास्तु दोष लगता है और नकारात्मकता बनी रहती है. मूर्ति के अलावा दूषित दीपक भी इस्तेमाल में नहीं लेना चाहिए। इससे घर में दरिद्रता छाई रहती है।

40 साल बाद जल से निकलते हैं भगवान विष्णु, भाग्यशाली लोग ही कर सकते 2 बार दर्शन…