Delhi: 28 दिसंबर को ड्राइवर लेस मेट्रो को पीएम मोदी दिखाएंगे हरी झंडी

दिल्ली मेट्रो ने सार्वजनिक परिवहन के क्षेत्र में देश में कई कीर्तिमान स्थापित किए हैं। इसी क्रम में देश में पहली बार 28 दिसंबर से दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) के मजेंटा लाइन (megenta line metro) पर बगैर चालक के मेट्रो रफ्तार भरेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उस दिन चालक रहित मेट्रो को हरी झंडी दिखाकर रखना करेंगे। मजेंटा लाइन देश में पहला मेट्रो कॉरिडोर होगा, जिस पर इस तकनीक से मेट्रो का परिचालन शुरू होगा। मेट्रो को डीएमआरसी (दिल्ली मेट्रो रेल निगम) के मुख्यालय में बने केंद्रीय कंट्रोल रूम से नियंत्रित किया जाएगा। मजेंटा लाइन के बाद पिंक लाइन पर भी चालक रहित मेट्रो का परिचालन किया जाएगा।

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

दरअसल, फेज तीन के इन दोनों कॉरिडोर पर संचार अधारित ट्रेन कंट्रोल सिग्नल सिस्टम का इस्तेमाल किया गया है। इसकी मदद से इन दोनों कॉरिडोर पर चालक रहित मेट्रो का परिचालन किया जा सकता है। फिलहाल इन दोनों कॉरिडोर की मेट्रो में चालक मौजूद होते हैं। चालक रहित मेट्रो के परिचालन के लिए डीएमआरसी ने कुछ माह पहले कंसल्टेंट नियुक्त किया था। जिसने दोनों कॉरिडोर के मेट्रो ट्रैक, सिग्नल सिस्टम, कंट्रोल रूम इत्यादि का निरीक्षण किया। इसके बाद मजेंटा लाइन के कॉरिडोर पर कुछ तकनीकी बदलाव किए गए।

rgyan app

केंद्र ने दी थी चालक रहित मेट्रो के परिचालन के लिए मंजूरी

इसके अलावा पिछले दिनों केंद्र सरकार ने चालक रहित मेट्रो के परिचालन के लिए मंजूरी दे दी थी। जिसके बाद 37 किलोमीटर लंबे मजेंटा लाइन पर बोटेनिकल गार्डन से जनकपुरी पश्चिम के बीच चालक रहित मेट्रो का परिचालन शुरू करने का फैसला किया गया है। 24 दिसंबर को मेट्रो ने अपने परिचालन के 18 साल पूरे कर लिए हैं। 28 दिसंबर को चालक रहित मेट्रो का परिचालन शुरू होते ही यह डीएमआरसी की इस साल की सबसे बड़ी कामयाबी होगी। ऐसा पहली बार होगा जब भारत में कोई बगैर ड्राइवर के मेट्रो चलेगी। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here