अखिलेश के बयान पर बोले उमर अब्दुल्ला- खुशी से लगवाऊंगा, वैक्सीन किसी पार्टी की नहीं

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कोरोना वैक्सीन को लेकर खुशी जाहिर की है और कहा है कि वो इसे लगवाने को तैयार हैं. उन्होंने कहा कि जितने लोग वैक्सीनेशन करवाएंगे, देश और अर्थव्यवस्था के लिए उतना अच्छा है. वैक्सीन किसी राजनीतिक पार्टी की नहीं है. ये मानवता के लिए है और जितनी जल्दी ये अतिसंवेदनशील लोगों तक पहुंचेगी, उतना बेहतर है.

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

वहीं समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के बयान पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए उमर ने कहा, ‘मैं औरों के बारे में नहीं जानता. लेकिन जब मेरी बारी आएगी तो मैं अपनी बांह उठाकर खुशी-खुशी कोरोना वैक्सीन लगवा लूंगा. इस वायरस ने अब तक काफी तबाही मचाई है. ऐसे में अगर किसी वैक्सीन से हालात सामान्य होते हैं तो मेरी तरफ से हां है.’

उमर अब्दुल्ला की ये प्रतिक्रिया अखिलेश यादव के उस बयान पर आई है जिसमें उन्होंने कहा है कि वे वैक्सीन नहीं लगवाएंगे, क्योंकि उन्हें बीजेपी के वैक्सीन पर भरोसा नहीं है.

अखिलेश ने वैक्सीन लेने से किया इंकार

समाजवादी पार्टी (सपा) के मुखिया और पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा है कि वो कोरोना की वैक्सीन नहीं लगवायेंगे. अखिलेश ने कहा, ‘मुझे बीजेपी की वैक्सीन पर भरोसा नहीं है.’ हालांकि जब बीजेपी ने उन्हें चारों तरफ से घेरा तो अखिलेश यादव ने कहा कि उन्हें वैज्ञानिकों की दक्षता पर पूरा भरोसा है. लेकिन बीजेपी की ताली-थाली वाली अवैज्ञानिक सोच पर बिल्कुल भरोसा नहीं है.

अखिलेश यादव ने दोबारा ट्वीट कर कहा, ‘हमें वैज्ञानिकों की दक्षता पर पूरा भरोसा है पर बीजेपी की ताली-थाली वाली अवैज्ञानिक सोच और बीजेपी सरकार की वैक्सीन लगवाने की उस चिकित्सा व्यवस्था पर भरोसा नहीं है, जो कोरोना काल में ठप्प-सी पड़ी रही है. हम बीजेपी की राजनीतिक वैक्सीन नहीं लगवाएंगे. सपा की सरकार वैक्सीन मुफ़्त लगवाएगी.’

rgyan app

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने साधा निशाना

सपा मुखिया के बयान पर केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने निशाना साधा. उन्होंने कहा कि “पीएम मोदी ने जान है तो जहान है की बात कही है. कोरोना वैक्सीन के लिए दुनिया भर के वैज्ञानिकों ने रात दिन इसलिए एक करा कि कम से कम जानें जाएं. अखिलेश यादव अपनी डूबती राजनीति बचाने के लिए दुर्भाग्यपूर्ण बयानबाज़ी कर रहे हैं.” अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

स्रोतwww.aajtak.in
पिछला लेखसर्दियों में इन 4 कारणों से होता है ज्यादा सोने का मन, अर्ली मार्निंग बिस्तर से उठने के लिए काम आएंगे ये टिप्स
अगला लेखन्यू ईयर पर दिल्ली पुलिसकर्मियों को तोहफा, 40 पार जवानों का हेल्थ चेकअप अनिवार्य, बीमा कवर बढ़ा