Omicron Variant Cases: द‍िल्ली में ओम‍िक्रॉन के तेजी से बढ़ने लगे मामले, 10 नए मरीज आए सामने, आंकड़ा हुआ डबल

द‍िल्‍ली में कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के आए नए वेर‍िएंट ओम‍िक्रॉन (Omicron Variant) के मामले अब द‍िल्‍ली में भी बढ़ने लगे हैं. द‍िल्‍ली में अब 10 और नए मामले सामने आ चुके हैं. इनकी कुल संख्‍या अब 20 हो चुकी है. इसके बाद अब द‍िल्‍ली सरकार की च‍िंता और भी बढ़ गई है. लेक‍िनद‍िल्‍ली सरकार (Delhi Government)का दावा है क‍ि वह कोरोना के क‍िसी भी नए स्‍ट्रेन से न‍िपटने के ल‍िए पूरी तरह से तैयार है.

द‍िल्‍ली के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्‍येंद्र जैन ने बताया क‍ि दिल्ली में अभी तक ओमिक्रॉन के 20 केस कन्फ़र्म हो चुके हैं. इनमें से 10 मरीजों को डिस्चार्ज कर द‍िया गया है.

सरकार का मानना है क‍ि वह हर लेवल पर तैयार‍ियां कर रही है. कोरोना का प्रसार नहीं हो, इसको लेकर माइक्रो लेवल पर हर काम पर नजर रखी जा रही है. सरकार 64 हजार से ज्‍यादा ऑक्‍सीजन बेड्स की व्‍यवस्‍था कर रही है. 32 प्रकार की दवाओं के बफर स्‍टॉक के ऑर्डर द‍िए जा रहे हैं.

जैन का कहना है क‍ि विदेश से आने वाले यात्रियों में ओमिक्रॉन के 10 नए मामले सामने और आए हैं. इसके बाद मामलों की कुल संख्‍या 20 हो गई है. इन सभी मरीजों का इलाज एलएनजेपी अस्पताल में चल रहा है. इनमें से 10 मरीजों को छुट्टी दे दी गई है और बाकी की हालत स्थिर है. एलएनजेपी अस्पताल में इन सभी का इलाज चल रहा है

ओमिक्रॉन ही नहीं, किसी भी वेरिएंट से निपटने की तैयारी

कोरोना को फैलने से रोकने की तैयारी के बारे में पूछे जाने पर स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि केवल ओमिक्रॉन ही नहीं, हम कोरोना के किसी भी वेरिएंट से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. इसके लिए 32 प्रकार की दवाएं हैं, जिन्हें हमने कोरोना से संक्रमित रोगियों के इलाज के लिए बफर स्टॉक के रूप में रखा है.

उन्होंने कहा कि नए ओमिक्रॉन वेरिएंट के प्रसार को रोकने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं. दिल्ली सरकार नए मामलों और ओमिक्रॉन वेरिएंट से संक्रमित मरीजों के कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग पर पैनी नजर रखे हुए हैं.नए वेरिएंट के प्रसार रोकने के लिए आवश्यक कार्रवाई की जा रही है. दिल्ली के लोगों से कोरोना के नियमों का पालन करने और हर समय मास्क पहनने का आग्रह भी किया है. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतindia.news18.com
पिछला लेखPurnima 2022 List In Hindi: नए साल 2022 में कब-कब है पूर्णिमा व्रत? सबसे पहले देखें यहां
अगला लेखदैनिक राशिफल 18 दिसंबर 2021: मिथुन राशि वालों को बिजनेस में मिलेगा फायदा, जानिए अन्य राशियों का हाल