Operation Ganga: एक रात में निकाले गए 600 भारतीय, अगले दो दिन में 7000 की वापसी की उम्मीद

शुक्रवार सुबह एयरफोर्स के दो C-17 विमानों से यूक्रेन में फंसे 210 छात्रों की भारत वापसी हुई है. ये दोनों विमान नई दिल्ली के करीब हिंडन एयरबेस पर उतरे हैं. इन दोनों विमानों ने छात्रों को लेकर रोमानिया की राजधानी बुखारेस्ट और हंगरी की राजधानी बुडापेस्ट से उड़ान भरी थी. केंद्रीय राज्य मंत्री अजय भट्ट ने इन छात्रों की अगवानी की. इसके अलावा एयरलाइन कंपनी इंडिगो की एक विशेष उड़ान 219 भारतीयों को लेकर नई दिल्ली के एयरपोर्ट पर पहुंची. इंडिगो का ये विमान गुरुवार को बुखारेस्ट गया था. यहां पर केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी और नीतीश प्रमाणिक ने छात्रों की देश वापसी पर उनका स्वागत किया. इसके अलावा एयर इंडिया की एक फ्लाइट से शुक्रवार को यूक्रेन से 185 भारतीय स्वदेश पहुंचे. इस तरह केवल एक रात में 600 भारतीयों को देश वापस लाया गया.

विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि अगले दो दिनों में विशेष उड़ानों से 7,400 भारतीयों को वापस लाए जाने की उम्मीद है. भारत सरकार ने यूक्रेन में फंसे लोगों को निकालने के लिए यूक्रेन की सीमा से लगे पड़ोसी देशों में चार मंत्रियों को लगाया है. जिससे भारतीयों की वतन वापसी में मदद मिल सके. हरदीप सिंह पुरी हंगरी, ज्योतिरादित्य सिंधिया रोमानिया और मोल्दोवा, किरेन रिजिजू स्लोवाकिया और जनरल (रिटायर्ड) वी.के. सिंह पोलैंड में डेरा डाले हुए हैं.

वी. के. सिंह ने बताया कि खबर मिली है कि कीव से आ रहे एक छात्र को गोली लग गई और उसे बीच रास्ते से ही वापस कीव ले जाया गया. हम ज्यादा से ज्यादा बच्चों को निकालने की कोशिश कर रहे हैं. अभी 1600-1700 बच्चों को भारत भेजना है. पिछले 3 दिनों में 7 फ्लाइट में लगभग 1400 बच्चे गए हैं. कुछ बच्चे अपने से वॉरसॉ पहुंचे थे और उन्होंने अपने रिश्तेदारों के साथ रुकने का फैसला किया है. वे पोलैंड में सुरक्षित हैं. वी. के. सिंह ने कहा कि ‘हम कल कुल 5 फ्लाइट पोलैंड से निकालेंगे. जिसमें हम 800-900 बच्चों को भारत भेंजेंगे. हमने बच्चों के रुकने के लिए यहां अस्थायी व्यवस्था बनाई है.’ अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतhindi.news18.com
पिछला लेखCryptocurrency News Today : क्रिप्टोकरेंसी में आज फिर गिरावट, जानिए क्या है बिटकॉइन और इथेरियम का भाव
अगला लेखRussia Ukraine News: कीव से आ रहे भारतीय छात्र को गोली लगी, वापस कीव ले जाया गया: वीके सिंह