“दिल्ली सरकार ने लूट लिया हमारा ऑक्सीजन टैंकर”, हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री का आरोप

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने आरोप लगाया है कि देर रात दिल्ली सरकार ने हरियाणा का ऑक्सीजन टैंकर लूट लिया है। अनिल विज ने कहा, “हम पर दबाव डाला जा रहा है कि हम दिल्ली को ऑक्सीजन दें। हमारी पहली प्राथमिकता हरियाणा है। कल हमारा टैंकर फरीदाबाद के अस्पतालों के लिए दिल्ली से जा रहा था। दिल्ली सरकार ने हमारा टैंकर लूट लिया। मैंने आदेश जारी किए हैं कि जो टैंकर जाएगा वो पुलिस के साथ जाएगा”।

astrologi report

दिल्ली सरकार ने मंगलवार रात को का दावा किया था कि उनके कई अस्पतालों में ऑक्सीजन की भारी कमी है और कुछ घंटों की जरूरत की ही ऑक्सीजन बची है, हालांकि इसके बाद मंगलवार रात और बुधवार को दिन में दिल्ली में ऑक्सीजन की सप्लाई को बढ़ाया गया है। दिल्ली के अस्पताल कोरोना मरीजों से भरे पड़े हैं और न के बराबर आईसीयू तथा वेंटीलेटर बेड बचे हैं।

कोरोना की इस दूसरी लहर में दिल्ली के अस्पतालों पर प्रचंड दबाव है। दिल्ली के अस्पताल इस वक्त न सिर्फ पूरी तरह से भर चुके हैं बल्कि उनमें ऑक्सीजन की भी भारी किल्लत हो रही है। कल शाम ही दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने ट्वीट कर पूर्वी दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी की बात कही थी। उन्होंने बताया था कि अस्पताल के पास सिर्फ 4 घंटे का ऑक्सीजन है और ऑक्सीजन अगर सही समय पर न मिला तो दिक्कत हो सकती है। उनके इस ट्वीट के चंद घंटों के बाद ही उत्तर प्रदेश के मोदीनगर से एक ऑक्सीजन टैंकर जीटीबी अस्पताल पहुंच गया।

rgyan app

केंद्रीय गृह मंत्रालय दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन उपलब्ध कराने की खातिर हरसंभव प्रयास कर रहा है और यह सुनिश्चित करने का प्रयास करेगा कि आवश्यक जन स्वास्थ्य के सामान की कमी नहीं हो। एक सरकारी अधिकारी ने कहा कि गृह मंत्रालय दिल्ली के लिए ऑक्सीजन की आपूर्ति सुचारू करने का हरसंभव प्रयास कर रहा है ताकि राजधानी के अस्पतालों में मेडिकल ऑक्सीजन की कमी नहीं हो। अधिकारी ने कहा कि केंद्र सरकार ऑक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने का प्रयास करेगी। केंद्र सरकार ने पिछले शुक्रवार को मेडिकल ऑक्सीजन ले जाने वाले वाहनों की निर्बाध आवाजाही सुनिश्चित करने का निर्देश राज्यों को दिया था, रविवार को केंद्र सरकार ने नौ विशिष्ट श्रेणी के उद्योगों को छोड़कर शेष औद्योगिक इकाइयों में ऑक्सीजन की आपूर्ति पर रोक लगा दी थी। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here