रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन चीफ अर्नब गोस्वामी गिरफ्तार, जानें क्या है मामला?

रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी को रायगढ़ पुलिस ने आत्महत्या के लिए उकसाने के मई 2018 के मामले में गिरफ्तार किया है. रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन चीफ अर्नब गोस्वामी और अलग-अलग कंपनियों के दो अन्य लोगों की भी गिरफ्तारी की गई है. आइए जानिए ये हैं अमेरिका की 5 टॉप कंपनियां.

दरअसल, मुंबई के एक 53 वर्षीय इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाइक ने अपने सुसाइड नोट में तीन लोगों का नाम दिया था. 5 मई 2018 को नाइक और उसकी मां ने खुद की जिंदगी खत्म कर ली थी. वहीं जिन तीन लोगों का नाम सुसाइड नोट में था उनमें अर्नब गोस्वामी का नाम भी शामिल था. इसके अलावा फिरोज शेख और नीतीश सारडा का नाम था.

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

सुसाइड नोट के मुताबिक, तीनों ने नाइक को अलग-अलग प्रोजेक्ट के लिए अपने पेशेवर डिजाइनर के रूप में कमीशन दिया था लेकिन उन्हें लगभग 5.40 करोड़ रुपये की कुल राशि का भुगतान नहीं किया गया. जिसके बाद 2018 में नाइक ने अपने अलीबाग फार्महाउस पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. इसके अलावा 83 वर्षीय उनकी मां कुमुद भी मृत पाई गईं.

इंटीरियर डिजाइनर की कॉनकॉर्ड कंपनी ने रिपब्लिक टीवी के गोस्वामी, iCastx के फिरोज शेख और स्मार्टवर्क के नीतीश सारडा के लिए काम किया था. सुसाइड नोट के मुताबिक अर्नब गोस्वामी पर बॉम्बे डाइंग कंपाउंड के अंदर स्टूडियो के काम के लिए 83 लाख रुपये, फिरोज शेख पर 4 करोड़ रुपये और नीतीश सारडा पर 55 लाख रुपये का बकाया था. Reach out to the best Astrologer at Jyotirvid.

समन की आवश्यकता नहीं

हालांकि किसी को कोई समन जारी नहीं किया गया था. पुलिस अधिकारियों के अनुसार समन की आवश्यकता नहीं है क्योंकि मामला बहुत गंभीर था. पुलिस ने कहा कि उनके पास तीनों अभियुक्तों के खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं और इसलिए बिना समन के सीधे गिरफ्तारी हो सकती है. और अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here