गुपकर गठबंधन के साथ मिलकर 370 की वापसी चाहती है कांग्रेस, यह गुपकर नहीं गुप्तचर गठबंधन: BJP

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में कांग्रेस पार्टी ने गुपकर गठबंधन के साथ मिलकर डिस्ट्रिक्ट डेवल्पमेंट काउंसिल के चुनाव लड़ने का फैसला किया है और गुपकर गठबंधन में कांग्रेस पार्टी के शामिल होने को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस सहित राहुल गांधी और सोनिया गांधी पर निशाना साधा है। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने आरोप लगाया है कि गुपकर गठबंधन के साथ मिलकर कांग्रेस पार्टी जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 की वापसी करना चाहती है। कांग्रेस पार्टी जिस गुपकर संगठन में शामिल हुई है उसमें फारूख अब्दुल्ला की नेशनल कॉन्फ्रेंस तथा महबूबा मुफ्ती की पीडीपी भी शामिल हैं और कुल 10 दल इस गठबंधन में है और सभी ने मिलकर जम्मू-कश्मीर में डिस्ट्रिक्ट डेवल्पमेंट काउंसिल के चुनाव लड़ने का फैसला किया है।

गुपकर गठबंधन में कांग्रेस के शामिल होने को लेकर भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस पार्टी, राहुल गांधी और सोनिया गांधी से पूछा है कि क्या वे गठबंधन के अपने सहयोगी दल नेशनल कानफ्रेंस तथा पीडीपी के नेताओं की तरफ से हाल में दिए बयानों का समर्थन करते हैं? संबित पात्रा ने कहा कि “कांग्रेस पार्टी के जम्मू कश्मीर के अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि गुपकर अलायंस के 10 दलों में कांग्रेस पार्टी भी शामिल हैं और कांग्रेस पार्टी का एक ही एडेंडा है अनुच्छेद 370 को वापस लाना।”

Not-satisfied-with-your-name-or-number

संबित पात्रा ने कहा, “मैं राहुल और सोनिया जी से पूछना चाहता हूं कि आप गुपकर गठबंधन में हैं और इस गठबंधन में एक पार्टी (नेशनल कॉन्फ्रेंस) ऐसी है जो कहती है कि चीन के साथ मिलकर 370 की वापसी कराएंगे। फारूख अब्दुल्ला कहते हैं कि चीन के साथ मिलकर 370 की वापसी कराएंगे। एक और पार्टी (पीडीपी) है, महबूबा मुफ्ती कहती हैं कि तिरंगा नहीं उठाऊंगी और न ही उठाने दूंगी। एक चीन के साथ मिलना चाहता है और दूसरा तिरंगा नहीं उठाना चाहता। ठीक उसी समय चिदंबरम जी ने कहा था अनुच्छेद 370 हटाना बहुत ही अनुचित है और इसकी वापसी हम चाहते हैं।”

संबित पात्रा ने कहा, “कांग्रेस पार्टी के जम्मू-कश्मीर के अध्यक्ष सोनिया जी और राहुल जी के कहने पर जिस प्रकार फारूख अब्दुल्ला से मिले और बयान जारी किया गया कि गुपकर गठबंधन का मुख्य उद्देश्य है कि जो लोग जम्मू कश्मीर में कानून को थोप रहे हैं उन शक्तियों को हराना है। मैं सोनिया जी और राहुल जी से पूछना चाहता हूं कि इस व्यकत्व का क्या मतलब है, जबरदस्ती कानून थोपने का क्या मतलब है, ये किसके कानून हैं, चीन या पाकिस्तान का तो कानून नहीं है। हिंदुस्तान का कानून है और हिंदुस्तान की जनता के प्रतिनिधी लोकतंत्र के सबसे बड़े मंदिर में विचार विमर्श करके लोकतांत्रिक तरीके से यह कानून बनाया जाता है। आप कह रहे हैं कि जबरदस्ती लागू कर रहे हैं। आप उन लोगों को हरना चाहते हैं जो हिंदुस्तान का कानून हिंदुस्तान की मिट्टी में लागू करना चाहते हैं, यह बहुत धिक्कार का विषय हैं।”

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, “जिस दिन संसद में 370 पर डिबेट हुआ उस समय सोनिया जी अधीर रंजन चौधरी को इशारा करती हैं और वे खड़े हो जाते हैं और अमित शाह पर हमला करते हुए कहते हैं कि आप 370 पर हिंदुस्तान की संसद में कैसे चर्चा कर सकते हैं, यह तो द्वीपक्षीय मसला है, बिना पाकिस्तान की अनुमती के हिंदुस्तान की संसद में इसपर चर्चा कैसे हो सकती है।”

कांग्रेस पार्टी पर हमलावर होते हुए संबित पात्रा ने कहा, “ये गुपकर है या गुप्तचर एलायंस है, ये वहीं चाहते हैं जो पाकिस्तान चाहता है, पाकिस्तान हर जगह कह रहा है कि 370 वापस होना चाहिए और यह गुप्तचर एलायंस भी यही कह रहा है, उसमें राहुल और सोनिया जी भी शामिल हैं।”

rgyan app

राहुल गांधी और सोनिया गांधी से सीधे सवाल करते हुए संबित पात्रा ने पूछा, “मैं राहुल और सोनिया जी से पूछना चाहता हूं, क्योंकि आप इस गठबंधन (गुपकर गठबंधन) में हैं, जो कहा गया कि चीन की मदद से 370 की वापसी कराएंगे, जो कहा गया पीडीपी की तरफ से कि तिरंगे को हाथ नहीं लगाएंगे और न लगाने देंगे, आप इसके पीछे हैं या नहीं, आप इनको रिजेक्ट करते हैं या सपोर्ट, आप इन वाक्यों के साथ खड़े हैं या इनका विरोध करते हैं?”

कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधते हुए संबित पात्रा ने कहा, “बिहार की जनता को राहुल और सोनिया जी और कांग्रेस पार्टी को कहा है चुपकर, देश के विरोध में न बोल, सर्जिकल स्ट्राइक, एयर स्ट्राइक, आर्टिकल 370, चीन को लेकर जिस तरह के व्यत्व्य राहुल गांधी ने दिए थे, प्रधानमंत्री को कायर कहा था, देश को डरा हुआ छुपा हुआ और हारा हुआ कहा था, जनता ने राहुल गांधी को चुपकर कहा है और वे गुपकर बनने चले हैं।” अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here