सरकार ने भारत की जमीन चीन को क्यों सौंपी? पहले फिंगर-4 तक भारत का कब्जा था: राहुल गांधी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सरकार चीन के सामने झुक गई और भारत की जमीन चीन को सौंप दिया। उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि भारत की जमीन फिंगर चार तक है लेकिन भारतीय सेना को अब फिंगर तीन पर वापस जाने को कहा गया है। उन्होंने कहा कि भारतीय सेना ने बड़ी मुश्किल से ऊंची चोटिंयों पर अपनी पोजिशन बनाई थी लेकिन चीन के आगे सरकार ने मत्था टेक दिया और अपनी जमीन चीन को सौंप दी। राहुल गांधी ने कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। राहुल ने आज दिल्ली से राजस्थान रवाना होने से पहले इस प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया।

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद राहुल गांधी राजस्थान रवाना होंगे जहां वे किसानों की महापंचायत में शामिल होंगे। हनुमानगढ़ जिले के पीलीबंगा कस्बे में सुबह 11:30 बजे और श्री गंगानगर जिले के पदमपुर कस्बे में दोपहर बाद 3:00 बजे किसान सभाओं को संबोधित करेंगे। किसानों की सभा को संबोधित करने के साथ ही वे यहां ट्रैक्टर रैली भी निकालने वाले हैं।

वहीं राहुल गांधी 13 फरवरी को किशनगढ़ पहुंचेंगे और वह सुरसुरा में लोक देवता तेजाजी महाराज मंदिर के दर्शन करेंगे तथा किसानों के साथ संवाद करेंगे। उन्होंने बताया कि इसके बाद वह अजमेर जिले के रूपनगढ़ में किसानों के साथ संवाद करेंगे। उन्होंने बताया कि उनकी नागौर में गोपाल गौशाला मकराना में किसान सभा को संबोधित करने का कार्यक्रम है। इस बीच राहुल गांधी के दौरे एवं सभाओं की तैयारियों के सिलसिले में पार्टी के राजस्थान प्रभारी अजय माकन यहां पहुंचे हुए हैं। माकन ने बृहस्पतिवार को स्थानीय नेताओं के साथ पीलीबंगा व पदमपुर में होने वाली किसान सभाओं की तैयारियों की समीक्षा की।

राहुल गांधी का कार्यक्रम

आज राहुल गंगानगर और हनुमानगढ़ में किसानों की सभा को संबोधित करेंगे
13 फरवरी को भी राहुल गांधी किसानाों से संवाद करेंगे
इस दौरान राहुल किशनगढ़ से मकराना तक ट्रैक्टर रैली भी निकालेंगे
ट्रैक्टर रैली से पहले राहुल तेजा मंदिर में दर्शन भी करेंगे

अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखHug Day 2021: सोशल डिस्टेंसिंग के दौर में अपने पार्टनर को इस तरह से दें प्यार वाली झप्पी
अगला लेखफेक न्यूज़, हेट न्यूज़, और राजद्रोह वाले पोस्ट के लिए मैकेनिज़्म बनाने की मांग पर ट्विटर और केंद्र को SC का नोटिस