Home राजनीति बीजेपी नेताओं को प्रधानमंत्री मोदी की खरी-खरी, परिवारवाद को बताया लोकतंत्र का...

बीजेपी नेताओं को प्रधानमंत्री मोदी की खरी-खरी, परिवारवाद को बताया लोकतंत्र का दुश्मन

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के संसदीय दल ने चार राज्यों के विधानसभा चुनावों में जीत दर्ज कर सत्ता में वापसी करने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा का मंगलवार को जोरदार अभिनंदन किया। संसदीय दल की बैठक की शुरुआत में महान गायिका लता मंगेशकर के सम्मान में दो मिनट का मौन रखा गया। मंगेशकर का छह फरवरी को निधन हो गया था।

बैठक में युद्धग्रस्त यूक्रेन में गोलीबारी में मारे गए भारतीय छात्र नवीन शेखरप्पा और कर्नाटक में हिजाब विवाद के दौरान मारे गए बजरंग दल के कार्यकर्ता हर्ष को भी श्रद्धांजलि अर्पित की गई। हाल में संपन्न हुए पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में भाजपा ने उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा की सत्ता में फिर से वापसी की। पंजाब में आम आदमी पार्टी को प्रचंड बहुमत मिला।

परिवारवाद को प्रधानमंत्री मोदी ने बताया दुश्मन-

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीजेपी नेताओं को जीत का मंत्र भी दिया। संसदीय दल की बैठक में पीएम मोदी ने परिवारवाद को लोकतंत्र का सबसे बड़ा दुश्मन बताया। पीएम मोदी ने कहा कि हालिया चुनावी नतीजों ने साबित कर दिया कि ये परिवारवाद के खिलाफ जनादेश है। पीएम मोदी ने कहा कि अगर किसी की उम्मीदवारी खारिज हुई तो यह मेरी जिम्मेदारी है। यूक्रेन से निकासी पर जानकारी दी। सांसदों को संदेश दिया कि पार्टी में पारिवारिक राजनीति की अनुमति नहीं होगी, अन्य पार्टियों में वंशवाद की राजनीति के खिलाफ लड़ा जाएगा।

संसदीय दल की बैठक में पीएम मोदी ने कहा कि आजादी के बाद की प्रमुख घटनाओं, हस्तियों पर फिल्म बनना चाहिए, जैसे कश्मीर फाइल्स बनी है। इससे लोगों को सच्चाई पता चलती है और ये समझ आता है कि किस घटना के लिए कौन जिम्मेदार था और उन लोगों के कारनामे लोगों के सामने भी आना चाहिए, अगर किसी ने कुछ गलत किया हो तो जिन्होंने अच्छा किए उसके बारे में भी लोगों को पता रहना चाहिए। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

Exit mobile version