Rajasthan Budget 2021 : CM अशोक गहलोत ने पेश किया बजट, लाएंगे ‘राइट टू हेल्थ’ बिल

राजस्थान की कांग्रेस सरकार ने राज्य की विधानसभा में बुधवार को अपना तीसरा बजट पेश किया. कोरोना के बीच यह राज्य का पहला ‘पेपरलेस’ बजट है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सदन में राज्य का साल 2021-22 का बजट पेश किया. बता दें कि मुख्यमंत्री के पास वित्त विभाग भी है. मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार अगले साल से कृषि का बजट अलग से पेश करेगी.

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

गहलोत सरकार ने कहा है कि राज्य सरकार अपने आगामी बजट में किसानों सहित समाज के सभी वर्गों की खुशहाली और कल्याण का ध्यान रखेगी. उन्होंने राज्य के कई जिलों में मंडियां स्थापित करने की घोषणा की है. वहीं एक कृषि महाविद्यालय स्थापित करने का ऐलान भी किया गया है. पशुपालकों के लिए भी कई घोषणाएं हुई हैं.

मुख्यमंत्री गहलोत ने बजट में कई नई घोषणाएं की, जिनमें राज्य के 25 जिला मुख्यालयों पर चरणबद्ध तरीके से नर्सिंग महाविद्यालय स्थापित करना शामिल है. उन्होंने कहा कि 2021- 22 में राज्य सरकार की सोच है कि सभी तबकों को साथ लेकर प्रदेशवासियों के जीवन को खुशहाल बनाया जाए.

rgyan app

उन्होंने कहा कि कोरोना ने अर्थव्यवस्था को झकझोर कर रख दिया इसलिए वर्ष के दौरान अधिक वित्तीय संसाधन जुटाने का प्रयास किया जाएगा. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ‘राइट टू हेल्थ’ विधेयक लाएगी और अगले साल 3,500 करोड़ रुपये की लागत से सार्वभौमिक स्वास्थ्य सुविधा (यूनिवर्सल हेल्थ केयर) लागू करेंगे जिसमें हर परिवार को पांच लाख रुपये तक का स्वास्थ्य बीमा कवर उपलब्ध हो सकेगा. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here