Home राशिफल दैनिक राशिफल दैनिक राशिफल 23 जून 2021: कन्या राशि के जातकों को धन लाभ...

दैनिक राशिफल 23 जून 2021: कन्या राशि के जातकों को धन लाभ के मिलेंगे मौके, वहीं इनकी पुरानी इच्छा होगी पूरी

ज्येष्ठ मास शुक्ल पक्ष की उदया तिथि त्रयोदशी और बुधवार का दिन है। त्रयोदशी तिथि सुबह 6 बजकर 59 मिनट तक रहेगी। सुबह 10 बजकर 1 तक साध्य योग रहेगा, उसके बाद शुभ योग शुरू हो जायेगा। साथ ही सुबह 11 बजकर 48 मिनट तक अनुराधा नक्षत्र रहेगा, उसके बाद ज्येष्ठा नक्षत्र शुरू हो जायेगा। देर रात 3 बजकर 31 मिनट से शुरू होकर कल दोपहर 1 बजकर 51 मिनट तक भद्रा रहेगी। इसके अलावा 20 जून को गुरु कुम्भ राशि में वक्री हुए थे। जानिए राशि के अनुसार आपका दिन कैसा बीतेगा, साथ ही ये भी जानिए कि आप अपना दिन कैसे और बेहतर बना सकते हैं।

मेष राशि

गुरु आपके ग्यारहवें स्थान पर गोचर करेंगे। गुरु के इस गोचर के प्रभाव से आपके भौतिक सुख साधनों में वृद्धि होगी। आपका व्यापार उन्नति के मार्ग पर अग्रसर रहेगा। इस दौरान आपका आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। नौकरी-पेशा वालों की पदोन्नति होगी। साथ ही आय में भी वृद्धि होगी। इस दौरान गुरु की शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिए मंदिर जाकर शाम की आरती के समय घंटी बजाएं।

वृष राशि

गुरु आपके दसवें स्थान पर गोचर करेंगे। गुरु के इस गोचर के प्रभाव से आपके व्यापार की गति थोड़ी धीमी हो सकती है। आपको करियर में कई तरह के लाभ मिलेंगे। आपको राजकार्यों से लाभ मिलेगा। संतान से सहयोग मिलेगा। लिहाजा 14 सितम्बर तक गुरु के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिए इस दौरान अपना सिर ढककर रखें और पिली पगड़ी पहनें।

मिथुन राशि

गुरु आपके नवें स्थान पर गोचर करेंगे। गुरु के इस गोचर के प्रभाव से आपके मुख से निकले हुए वचन पक्के होंगे। पैतृक संपत्ति से लाभ पाने के लिए आपको कोशिशें करनी पड़ेगी। इस दौरान आपका स्वास्थ्य बेहतर बना रहेगा। मेहनत के बल पर आपको धन लाभ होगा। लिहाजा अपने जीवन में सब कुछ बेहतर बनाएं रखने के लिए आज से लेकर 14 सितम्बर तकरोज मंदिर जाकर भगवान के दर्शन करें।

कर्क राशि

गुरु आपके आठवें स्थान पर गोचर करेंगे। गुरु के इस गोचर के प्रभाव से आपको सांसारिक सुख की प्राप्ति होगी। घर के सभी सदस्यों का स्वास्थ्य बेहतर बना रहेगा। साथ ही आपके धन में बढ़ोतरी होगी। इस दौरान गुरु के शुभ फल पाने के लिये और किसी भी तरह के अशुभ फलों से बचने के लिए अपने मस्तक पर हल्दी से तिलक करें।

सिंह राशि

गुरु आपके सातवें स्थान पर गोचर करेंगे। गुरु के इस गोचर के प्रभाव से इस दौरान आपकी यात्रा सुखद होगी। आपके भाग्य में वृद्धि होगी। साथ ही धर्म के कार्यों में प्रसिद्धि होगी। आपके पास पैसों की कोई कमी नहीं होगी। तो गुरु के शुभ फल बनाये रखने के लिए रत्तियाँ जो सोना तोलने के काम आती है, उन्हें एक पीले कपड़े में बांधकर या सोने के साथ रख दें।

कन्या राशि

गुरु आपके छठे स्थान पर गोचर करेंगे। गुरु के इस गोचर के प्रभाव से काम करने में रूचि कम रहेगी। आपको अपनी मेहनत के बल पर ही कोई चीज मिल पायेगी। इस दौरान अगर आप किसी जरूरतमंद को दान देंगे, तो आपका भाग्य बेहतर रहेगा । साथ ही 14 सितम्बर तक गुरु की शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिए कुत्ते को रोटी खिलाएं ।

तुला राशि

गुरु आपके पांचवें स्थान पर गोचर करेंगे। पांचवा स्थान संतान, गुरु, विवेक और रोमांस आदि विषयों से संबंधित है। आपको गुरु से विद्या का लाभ पाने के लिये बहुत मशक्कत करनी पड़ सकती है। रोमांस के मामले में आप पीछे रह सकते हैं। लिहाजा 14 सितम्बर तक गुरु के अशुभ फलों से बचने के लिए और शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिए मंदिर जाकर शाम की आरती में शामिल हो।

वृश्चिक राशि

गुरु आपके चौथे स्थान पर गोचर करेंगे। गुरु के इस गोचर के प्रभाव से आपको धन के लिए मेहनत करनी पड़ेगी। आपको जीवन में कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। आपको अपने कार्यों में माता का साथ मिलने में परेशानी आ सकती हैं। भूमि, भवन और वाहन का लाभ पाने के लिए भी संघर्ष करना पड़ेगा । इस दौरान गुरु की अशुभ स्थिति से बचने के लिये अपने से बड़ों का सम्मान करें।

धनु राशि

गुरु आपके तीसरे स्थान पर गोचर करेंगे। गुरु के इस गोचर के प्रभाव से आपको भाई और संतान का सुख प्राप्त होगा। आपके धन में वृद्धि होगी। ससुराल पक्ष से भी लाभ होगा। आप दूसरों की भलाई करेंगे, जिससे समाज में आपका मान-सम्मान बढ़ेगा। आपको अपने सब कार्यों में शुभ फल प्राप्त होंगे। तो 14 सितम्बर तक गुरु के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिए छोटी कन्या का सम्मान करें और उन्हें हाथ जोड़कर प्रणाम करें।

मकर राशि

गुरु आपके दूसरे स्थान पर गोचर करेंगे। गुरु के इस गोचर के प्रभाव से आपको धन की हानि हो सकती है। आपके स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव बना रहेगा। लिहाजा 14 सितम्बर तक गुरु के अशुभ फलों से बचने के लिए और शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिए एक पीले कपड़े में थोड़ी-सी चने की दाल बांधकर किसी मंदिर में दान करें।

कुंभ राशि

गुरु आपके पहले स्थान पर गोचर करेंगे। गुरु के इस गोचर के प्रभाव से आपको अधिक पैसे कमाने के लिए मेहनत जारी रखनी होगी। आपकी संतान को राजकार्य और मुकदमों में जीत हासिल होगी। साथ ही आपका स्वास्थ्य बेहतर बना रहेगा। जीवन में माता-पिता और अन्य लोगों का सहयोग मिलता रहेगा। लिहाजा 14 सितम्बर तक गुरु के शुभ फल प्राप्त करने के लिए सभी महिलाओं का सम्मान करें।

मीन राशि

गुरु आपके बारहवें स्थान पर गोचर करेंगे। गुरु के इस गोचर के प्रभाव से आपके भाग्य का उदय होगा। इस दौरान आप जो भी काम करेंगे, भाग्य के सहयोग से उसमें आपको सफलता मिलेगी। साथ ही शैय्या सुख की प्राप्ति होगी और संतान सुख की भी प्राप्ति होगी। लिहाजा 14 सितम्बर तक गुरु की शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिए माथे पर केसर का तिलक लगाएं या फिर एक डिब्बी में केसर डालकर अपने पास रखें। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

Exit mobile version