जरूरी सूचना! RBI ने इस बैंक का लाइसेंस किया रद्द, ग्राहक अब नहीं निकाल सकेंगे पैसे

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने महाराष्ट्र के बैंक डॉ. शिवाजीराव पाटिल निलंगेकर अर्बन को ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड (Dr Shivajirao Patil Nilangekar Urban Co-operative Bank) का लाइसेंस रद्द कर दिया है. आरबीआई के मुताबिक, ये कार्रवाई बैंक की खराब वित्तीय हालत के कारण की गई है. लाइसेंस रद्द किये जाने के साथ ही बैंक के जमा लेने और पेमेंट करने पर भी रोक लगा दी गई है.

ग्राहक नहीं निकाल सकेंगे पैसा

बैंक लाइसेंस रद्द होने से जमाकर्ताओं का पैसा चुकाने में असमर्थ हो सकता है. डॉ. शिवाजीराव पाटिल निलंगेकर अर्बन को ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड अपनी अभी की मौजूदा फाइनेंशिलय हालात को देखते हुए पैसा नहीं चुका सकता. RBI के अलावा सहकारिता आयुक्त और सहकारी समितियों के रजिस्ट्रार ने भी महाराष्ट्र के इस बैंक को बंद करने और बैंक के लिए अधिकारी नियुक्त करने का आदेश जारी किया है.

बैंक के पास नहीं है कमाई का कोई जरिया

RBI ने कहा कि डॉ शिवाजीराव पाटिल निलंगेकर अर्बन को ऑपरेटिव बैंक के पास कमाई का कोई जरिया नहीं है. यह बैंकिंग विनियमन अधिनियम 1949 के प्रावधानों के मुताबिक नहीं है. डॉ. शिवाजीराव पाटिल निलंगेकर अर्बन को ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड का बैंक के ग्राहकों के लिए बना रहना सही नहीं है. बैंक को यदि कारोबार बढ़ाने की इजाजत दी जाती है तो उससे ग्राहकों और लोगों पर असर पड़ेगा.

astro

1 महीने पहले इस बैंक का किया था लाइसेंस रद्द

1 महीने पहले ही RBI ने महाराष्ट्र के पुणे में मौजूद शिवाजी राव भोसले सहकारी बैंक लिमिटेड का बैंकिंग लाइसेंस रद्द किया था. आरबीआई ने बैंकिंग रेगुलेशन एक्ट 1949 की धारा-35A की उपधारा के तहत शिवाजीराव भोसले सहकारी बैंक पर यह प्रतिबंध लगाया था. इन प्रतिबंधों के तहत आरबीआई ने निकासी, जमा लेने, लोन देने पर पाबंदी लगा दी थी. बता दें कि आरबीआई इससे पहले भी महाराष्‍ट्र के कई सहकारी बैंकों के लाइसेंस रद्द कर चुका है. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतhindi.news18.com
पिछला लेखVastu Tips: नमक से दूर होगी घर की अशांति, बस गुरुवार को ऐसे करें इस्तेमाल
अगला लेखजानें कैसे हुआ भगवान विष्णु का जन्म, गुरुवार को इस विधि से करें उनकी पूजा