Home विश्व Russia-Ukraine War: रूसी सेना का खेरसॉन पर कब्जा, खारकीव में बमबारी, अब...

Russia-Ukraine War: रूसी सेना का खेरसॉन पर कब्जा, खारकीव में बमबारी, अब तक के 10 अपडेट

यूक्रेन पर रूस के हमले सातवें दिन से जारी है. राजधानी कीव और खार्कीव समेत कई प्रमुख शहरों को निशाना बनाया जा रहा है. रूसी सेना ने खेरसॉन पर कब्जा कर लिया है. रूसी सेना खारकीव की ओर तेजी से बढ़ रही है. इससे पहले मंगलवार रात रूसी फोर्सेस ने राजधानी कीव के टीवी टावर पर मिसाइल अटैक किया. इस हमले में 5 लोगों की मौत हो गई. रूस ने यहूदियों के नरसंहार की याद में बनाए गए बेबिन यार होलोकॉस्ट मेमोरियल सेंटर पर भी हवाई हमला किया.

आइए जानते हैं रूस-यूक्रेन हमले के अबतक के 10 अपडेट:-

रूसी सेना ने Kherson पर कब्जा कर लिया है. दूसरी तरफ कीव-खारकीव में बमबारी भी तेज हो गई है. खारकीव में आज सुबह से हवाई हमले नहीं सुनाई दिए हैं. लेकिन इस बीच वहां रूसी पैराट्रूपर्स उतरे हैं, जिन्होंने हॉस्पिटल को निशाना बनाया है. वहां गोलीबारी जारी है.

बेलारूस जंग में रूस के साथ आ सकता है. यूक्रेन के रक्षा मंत्रालय का दावा है कि बेलारूस उनके खिलाफ यूक्रेन में सैनिक भेज सकता है. हालांकि, बेलारूस का इसपर अभी बयान नहीं आया है.

रूस-यूक्रेन के बीच दूसरे दौर की बातचीत आज होनी है. ये बातचीत पोलैंड में होगी. हालांकि, अभी तक इसका वक्त नहीं बताया गया है.

बातचीत से पहले यूक्रेन ने सीजफायर की मांग की है. दूसरी तरफ यूक्रेन मसले पर इंटरनैशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (ICJ) में 7 और 8 मार्च को सुनवाई होगी.

रूस और अमेरिका ने परमाणु बलों को हाईअलर्ट पर डाल दिया है. इन सबके बीच NATO ने कहा है कि परमाणु हथियार के अलर्ट लेवल में बदलाव की जरूरत नहीं है. NATO महासचिव ने पोलैंड के राष्ट्रपति के साथ यूरोपीय सुरक्षा पर बातचीत के बाद कहा है कि हम हमेशा वही करेंगे जो हमारे सहयोगियों की सुरक्षा के लिए जरूरी हो.

वायुसेना का C-17 ग्लोबमास्टर रोमानिया के लिए रवाना हो गया है. ग्लोबमास्टर ने गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस से उड़ान भरी है. आज देर शाम तक छात्रों को लाने की उम्मीद है. हिंडन एयर बेस से उड़ान भरने वाला भारतीय वायु सेना का C-17 विमान यूक्रेन में फंसे छात्रों के लिए टेंट, कंबल और अन्य मानवीय सहायता भी साथ लेकर रवाना हुआ है.

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि अमेरिका यूक्रेन के साथ खड़ा है. हम यूक्रेन को 1 बिलियन डॉलर की मदद देंगे. दूसरी ओर रूस को अपने गलती की कीमत चुकानी होगी. हालांकि, बाइडन ने फिर दोहराया कि अमेरिकी सेना को यूक्रेन जंग में शामिल नहीं करेंगे.

रूस की सरकार के आलोचक रहे देश के एक रेडियो स्टेशन से मंगलवार को सारण बंद हो गया. प्राधिकारियों ने यूक्रेन पर रूस के आक्रमण की कवरेज को लेकर उसे बंद करने की चेतावनी दी थी. रूस के सबसे पुराने रेडियो स्टेशन में से एक इको मॉस्की के खिलाफ यह कदम उठाया गया है.

केंद्रीय मंत्री सोम प्रकाश ने सोमवार को कहा कि युद्धग्रस्त यूक्रेन में फंसे छात्रों तथा अन्य लोगों के परिवारों की मदद के लिए दो हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए हैं. जारी एक आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार, यूक्रेन में फंसे छात्रों तथा अन्य लोगों के परिवार हेल्पलाइन नंबर 9173572-00001 और 9198154-25173 पर फोन कर सकते हैं.

रूसी सैनिकों की ओर से यूक्रेन में किए जा रहे हमले के बीच Apple ने मंगलवार को रूस में सभी प्रोडक्ट्स की बिक्री (Product Sales) पर रोक लगाने की घोषणा की है. आईफोन निर्माता कंपनी ने यह भी घोषणा की कि ऐप्पल पे और अन्य सेवाओं को सीमित कर दिया गया है. ऐप्पल ने रूस के न्यूज ऐप्स आरटी और स्पूतनिक को अपने ऐप्प स्टोर से हटा दिया है. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

Exit mobile version