SBI ने ग्राहकों को भेजे संदेश, नहीं मानें तो हो सकते हैं कंगाल

देश का सबसे बड़ा बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों को एक संदेश भेजा हैं. एसबीआई (SBI) ने कहा, हम अपने ग्राहकों को सलाह देते हैं कि धोखेबाजों से सतर्क रहें और किसी भी संवेदनशील जानकारी को ऑनलाइन शेयर न करें. साथ ही किसी अज्ञात स्रोत से कोई ऐप डाउनलोड करने के लिए भी मना किया है. ऐसा नहीं करने पर आप धोखाधड़ी का शिकार हो सकते हैं और आपका बैंक खाता खाली हो सकता है.

SBI ने ट्वीट कर ग्राहकों से कहा

यह हमारा कर्तव्य है कि हम आपको ऑनलाइन धोखाधड़ी का शिकार होने से बचाएं. एसबीआई (SBI) ने कहा, हम अपने ग्राहकों को सलाह देते हैं कि धोखेबाजों से सतर्क रहें और किसी भी संवेदनशील जानकारी को ऑनलाइन शेयर न करें.

यह आवश्यक हैं कि आप मानक नियमों का पालन करें और किसी अनजान व्यक्ति से अपना पर्सनल एवं बैंकिंग विवरण साझा न करें.

किसी भी अनौपचारिक लिंक पर क्लिक न करें जो ईएमआई (EMI), डीबीटी (DBT), प्रधानमंत्री केयर फंड या किसी अन्य केयर फंड के लिए वन टाइम पासवर्ड (OTP) या बैंक विवरण मांगता है.

फर्जी योजनाओं से सावधान रहें, जो एसएमएस, ई मेल, पत्र, फोन कॉल या विज्ञापन के माध्यम से लॉटरी, नकद पुरस्कार या नौकरी के अवसर प्रदान करने का दावा करते हैं.

समय समय पर बैंक से संबंधित अपना पासवर्ड बदलते रहें.

Get-Detailed-Customised-Astrological-Report-on

कृपया ध्यान रखें कि एसबीआई के प्रतिनिधि कभी भी अपने ग्राहकों को उनकी व्यक्तिगत जानकारी, पासवर्ड, उच्च सुरक्षा पासवर्ड या ओटीपी के लिए न तो ईमेल/एसएमएस भेजते हैं और ना ही कॉल करते हैं.

एसबीआई से संबंधित संपर्क नबंर और अन्य विवरण के लिए केवल एसबीआई की वेबसाइट का ही उपयोग करें. इस संबंध में इंटरनेट खोज परिणामों पर उपलब्ध जानकारी पर भरोसा न करें.

धोखेबाजाों के बारे में स्थानीय पुलिस के अधिकारी को तुरंत रिपोर्ट करें और अपनी निकटतम एसबीआई शाखा को इसकी सूचना दें. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

स्रोतhindi.news18.com
पिछला लेखआज का पंचांग, 22 मई 2021: शनिवार को करें शनिदेव की पूजा, जानें शुभ और अशुभ समय
अगला लेखMohini Ekadashi Katha: भगवान विष्णु ने मोहिनी बनकर छीना असुरों से अमृत, पढ़ें मोहिनी एकादशी की पौराणिक कथा