Pollution in Delhi NCR- बढ़ते प्रदूषण के बावजूद गाजियाबाद और नोएडा में नहीं बंद हुए स्‍कूल, जानें वजह

दिल्‍ली-एनसीआर (Delhi NCR) में बढ़ते प्रदूषण को कम करने के लिए राज्‍य सरकारें अपने अपने स्‍तर पर प्रयास कर रही हैं. दिल्‍ली और हरियाणा के एनसीआर क्षेत्र में पड़ने वाले स्‍कूलों को बंद कर दिया गया है, जिससे स्‍टूडेंट्स को दम फुलाने वाले प्रदूषण (Pollution) से बचाया जा सके. लेकिन उत्‍तर प्रदेश के गाजियाबाद और गौतमबुद्ध नगर जिले के स्‍कूलों का बंद नहीं किया गया है. यहां बच्‍चे रोजाना की तरह स्‍कूल जा रहे हैं. इस संबंध में जिला प्रशासन का कहना है कि शासन स्‍तर पर आदेश आने के बाद स्‍कूल बंद किए जाएंगे.

दिल्‍ली एनसीआर में दिवाली से प्रदूषण कम होने का नाम नहीं ले रहा है. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने भी सख्‍ती दिखाई है. सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्यों को चेतावनी दी कि प्रदूषण कम करने के लिए बुधवार शाम तक कुछ ठोस उपाय किए जाएं. दिल्‍ली एनसीआर के कई स्‍थानों पर एक्‍यूआई 400 से 500 के बीच दर्ज किया जा रहा है. इस दौरान दिल्‍ली और हरियाणा राज्‍य सरकारों ने बच्‍चों को ध्‍यान में रखते हुए पिछले सप्‍ताह ही स्‍कूल बंद करने के आदेश दिए हैं, लेकिन गाजियाबाद और गौतमबुद्ध में अब तक स्‍कूल खुले हैं. पैरेंट्स दम फुलाने वाले प्रदूषण में बच्‍चों को स्‍कूल भेजने को मजबूर हैं. गाजियाबाद के इंदिरापुरम, वैशाली, कौशांबी, रामप्रस्‍थ और नोएडा के भी तमाम इलाके ऐसे हैं जो दिल्‍ली बार्डर से बिल्‍कुल सटे हैं, जितना प्रदूषण दिल्‍ली में उतना ही इन इलाकों में भी हैं, इसके बावजूद स्‍कूल बंद नहीं किए गए हैं.

स्‍कूल प्रबंधन आदेश के इंतजार में

गाजियाबाद और नोएडा के स्‍कूल प्रबंधन प्रशासन के आदेश का इंतजार कर रहे हैं. इस संबंध में गाजियाबाद के विद्या बाल भवन स्‍कूल के हेड एडमिस्‍ट्रेटर निशांत शर्मा बताते हैं कि अभी तक प्रशासन की ओर से स्‍कूल बंद करने का कोई आदेश नहीं मिला है, जैसे आदेश आता है, स्‍कूल बंद दिया जाएगा. वहीं गाजियाबाद वसुंधरा सेक्‍टर तीन स्थिति होली फील्‍ड पब्लिक स्‍कूल के प्रबंधक भूपेन्‍द्र सिंह भी बताते हैं कि अभी तक स्‍कूल बंद करने के आदेश नहीं मिले हैं, आदेश आने के बाद स्‍कूल को बंद कर देंगे.

क्‍या कहना है प्रशासन का

गाजियाबाद के डीएम आरके सिंह का कहना है कि प्रदूषण कम करने के लिए प्रशासन लगतार प्रभावी कदम उठा रहा है. शासन से निर्देश के बाद ही यहां पर स्‍कूल बंद करने के आदेश दिए जाएंगे. अभी तक शासन से इस संबंध में कोई निर्देश नहीं मिले हैं. निर्देश मिलते ही यहां पर भी स्‍कूल बंद करने के आदेश जारी कर दिया जाएगा.

astro

दिल्ली सरकार द्वारा उठाए गए कदम

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पिछले सप्‍ताह प्रदूषण से निपटने के लिए कई उपायों की घोषणा की, जिनमें एक सप्ताह के लिए स्कूलों को बंद करना, निर्माण गतिविधियों पर रोक और सरकारी कर्मचारियों के लिए घर से काम करना (वर्क फ्रॉम होम) शामिल हैं. केजरीवाल ने एक आपात बैठक के बाद कहा कि उनकी सरकार केंद्र, केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) और अन्य एजेंसियों से चर्चा के बाद लॉकडाउन का प्रस्ताव भी शीर्ष अदालत के समक्ष पेश करेगी.

हरियाणा सरकार ये कदम उठाए

प्रदूषण के बढ़ती समस्या के कारण एनसीआर के अंदर हरियाणा के चार जिलों गुरुग्राम, सोनीपत, फरीदाबाद और झज्जर में चार दिनों तक स्कूल बंद कर दिए गए हैं. स्कूल को बंद करने का यह फैसला हरियाणा सरकार ने लिया है. इसके अलावा हरियाणा सरकार ने सभी सरकारी और निजी ऑफिसों को यह निर्देश दिया है कि वह अपने कर्मचारियों से कार्य वर्क फ्रॉम होम करवाएं. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतhindi.news18.com
पिछला लेखStock Market Today- शेयर बाजार की कमजोर शुरुआत! सेंसेक्स 60,155 पर खुला, निफ्टी 17,937 के पार
अगला लेखदैनिक राशिफल 18 नवंबर 2021: सिंह राशि वालों के प्रमोशन होने के हैं आसार, जानिए अन्य का हाल