सेंसेक्स | शेयर बाजार: सुस्त शुरुआत, बैंकिंग शेयरों में दबाव से बाजार पस्त

मंगलवार को घरेलू शेयर बाजारों ने कमजोरी के साथ सत्र का आगाज किया. प्रमुख सूचकांकों पर दबाव देखने को मिला, मगर गिरावट का दायरा बहुत ज्यादा नहीं रहा. प्रमुख सूचकांक तेजी और कमजोरी के बीच झूलते नजर आए. घरेलू बाजारों को वैश्विक संकेतों का सपोर्ट नहीं मिला. अमेरिका में बढ़ती राजनैतिक अस्थिरता और कोरोना वायरस के मामलों ने दुनिया भर के बाजारों पर दबाव बनाया. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग पेश किया जा सकता है.

भारतीय रिजर्व बैंक ने जोरदार आर्थिक रिकवरी के बावजूद घरेलू बैंकिंग सेक्टर में बढ़ते एनपीए के दबाव के बारे में आगाह किया है. केंद्रीय बैंक के अनुसार, घरेलू बैंकों का एनपीए 14 फीसदी तक पहुंच सकता है.

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

सुबह 9.30 बजे, बीएसई सेंसेक्स ने 52 अंक या 0.11 फीसदी की कमजोरी के साथ 49,217 के स्तर पर कारोबार करते हुए नजर आया. वहीं, निफ्टी 50 इंडेक्स भी 2 अंक या 0.01 फीसदी नाममात्र कमजोरी के साथ 14,483 के स्तर पर रिकॉर्ड किया गया.

सोमवार को अमेरिकी शेयर बाजारों ने निराश किया. डाव जोन्स ने 0.29 फीसदी तक की गिरावट दर्ज की, जबकि एसएंडपी 500 इंडेक्स ने 0.66 फीसदी तक की कमजोरी दिखाई. नेस्डेक कंपोडिट ने 1.25 फीसदी का गोता लगाकर सत्र का अंत किया.

बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप इंडेक्स ने एक-तिहाई फीसदी तक की कमजोरी दर्ज की. बीएसई मेटल इंडेक्स ने तीन फीसदी की छलांग लगाई, जबकि एनर्जी व ऑयल एंड गैस इंडेक्स ने एक-एक फीसदी तक की तेजी दिखाई. बीएसई बैंकेक्स और वित्तीय इंडेक्स ने सबसे अधिक दबाव बनाया.

बीएसई पर इंडसइंड बैंक के शेयर 2.16 फीसदी की गिरावट के साथ 909.50 रुपये के हो गए. एशियन पेंट्स के शेयर 1.19 फीसदी लुढ़क कर 2,815.35 रुपये तक पहुंचे. कोटक महिंद्रा बैंक और बजाज ऑटो और टाइटन कंपनी के शेयर क्रमश: 1.11 फीसदी, 1.05 फीसदी और 1.05 फीसदी तक टूटे.

दूसरे तरफ, रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर 1.12 फीसदी की तेजी के साथ 1.918.20 रुपये के हो गए. आईटीसी के शेयर 0.82 फीसदी की बढ़त दर्ज कर 204.10 रुपये तक पहुंचे. लार्सन एंड टुब्रो, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज और बजाज फिनसर्व ने क्रमश: 0.72 फीसदी, 0.62 फीसदी और 0.56 फीसदी तक चढ़े.

rgyan app

जापान के इतर एशिया पेसेफिक के बाजार फिसले, जबकि जापान के निक्केई ने 0.48 फीसदी तक कमजोरी दिखाई. दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.91 फीसदी तक लुढ़का, जबकि हेंगसेंग ने आधा फीसदी की सुस्ती दिखाई.

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों द्वारा भारतीय बाजार में खरीदारी का सिलसिला सोमवार को भी कायम रहा. बीते सत्र के दौरान उन्होंने शुद्ध रूप से 3138.9 करोड़ रुपये के शेयर खरीद डाले. हालांकि, घरेलू संस्थागत निवेशकों ने नेट 2610.13 करोड़ रुपये की बिकावली की. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतeconomictimes.indiatimes.com
पिछला लेखमनुष्य को हमेशा इन 4 चीजों पर करें जज, तभी पता चलेगा कि वो असली सोने की तरह खरा है या नहीं
अगला लेखमकर संक्रांति पर इन चीजों का दान करने से दूर होगा शनि दोष, करियर में होगा फायदा