Home शेयर बाजार Share Market Update: डर के आगे शेयर बाजार में तेजी है, जानिए...

Share Market Update: डर के आगे शेयर बाजार में तेजी है, जानिए मार्केट में कहां पैसा लगाएं

डर के आगे जीत है ये लाइन आपने अक्सर सुनी होगी. इस समय बाजार में यही हाल है. युद्ध वाले डर के बाद भारतीय शेयर बाजार में जोरदार तेजी देखने को मिल रही है. मंगलवार की तेजी के बाद आज बुधवार को भी बाजार बढ़त के साथ खुले हैं. सेंसेक्स लगभग 40 अंकों की तेजी के साथ 580000 के ऊपर पर ट्रेड कर रहा है. वहीं निफ्टी लगभग 40 अकों की बढ़त के बाद 17400 के आस-पास ट्रेड कर रहा है.

रूस-यूक्रेन संकट टलने की उम्मीद से GLOBAL संकेत अच्छे नजर आ रहे है. एशियाई बाजारों में गहरी हरियाली देखने को मिली. SGX NIFTY भी हल्का ऊपर, कारोबार कर रहा है. कल US के INDICES में 2% तक का उछाल देखने को मिला. क्रूड और सोने में नरमी आई.

बाजार का लेवल

Choice Broking की पलक कोठरी का कहना है कि डेली चार्ट पर निफ्टी ने 200 DMA से सपोर्ट लिया है. ऑवर्ली चार्ट पर निफ्टी ने 21*50-HMA के ऊपर पॉजिटीव क्रॉस ओवर के साथ क्लोजिंग की है. जो अगले कारोबारी सत्रों में तेजी का संकेत है. वर्तमान में निफ्टी के लिए 16800 पर सपोर्ट है जबकि ऊपर की तरफ 17500 पर रजिस्टेंस नजर आ रहा है. वहीं बैंक निफ्टी के लिए 37300 पर सपोर्ट है और 39000 पर रजिस्टेंस नजर आ रहा है.

कोटक सिक्योरिटी के श्रीकांत चौहान का कहना है कि डेली चार्ट पर निफ्टी ने एक लॉन्ग बुलिश कैंडल बना लिया है जो नियरटर्म में पुलबैक रैली के जारी रहने का संकेत है. निफ्टी के लिए 17450-17550 पर इमीडिएट हर्डल नजर आ रहा है जब तक निफ्टी 17200 के ऊपर बना रहता है तब तक इसके 17450-17550 तक जाने की संभावना बनी रहेगी. वहीं निफ्टी अगर 17200 के नीचे फिसलता है तो फिर हमें इसमें 17100- 17,050 का भी स्तर देखने को मिल सकता है.

NSE पर F&O बैन में आने वाले शेयर

16 फरवरी को NSE पर 4 स्टॉक F&O बैन में हैं. इनमें BHEL, Escorts, Indiabulls Housing Finance और SAILके नाम शामिल हैं. बताते चलें कि F&O सेगमेंट में शामिल स्टॉक्स को उस स्थिति में बैन कैटेगरी में डाल दिया जाता है, जिसमें सिक्योरिटीज की पोजीशन उनकी मार्केट वाइड पोजीशन लिमिट से ज्यादा हो जाती है.

15 फरवरी को भारतीय बाजारों में विदेशी संस्थागत निवेशकों ने 2,298.76 करोड़ रुपए की बिकवाली की. वहीं, इस दिन घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 4,411.60 करोड़ रुपए की खरीदारी की. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

Exit mobile version