Share Market Today : छह सेशन से जारी तेजी थमी, मिले-जुले संकेतों के बीच ट्रेड कर रहा बाजार

शेयर बाजार में पिछले छह सत्रों से दिख रही तेजी थमती हुई नजर आ रही है. मंगलवार को मार्केट क्लोज होने के साथ इस तेजी पर विराम लगा. हालांकि, बुधवार को बेंचमार्क इंडेक्स थोड़े उछाल के साथ ही खुले हैं. हालांकि बाजार में वॉलेटिलिटी बनी हुई है. इंडेक्स उतार-चढ़ाव के बीच ट्रेड कर रहे हैं.

घरेलू शेयर बाजार खुलने के बाद सेंसेक्स में 26.81 अंकों यानी 0.05 फीसदी की उछाल देखी गई. सेंसेक्स 51,355.89 पर ट्रेड कर रहा था, वहीं निफ्टी 9.75 अंक यानी 0.06 फीसदी की उछाल लेकर 15,119.05 पर ट्रेड कर रहा था.

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

बाजार खुलने के बाद सेंसेक्स के 30 शेयरों में से लगभग 19 हरे निशान में खुले हैं. सुबह 9 बजकर 53 मिनट के आसपास BSE सेंसेक्स 25.07 अंक यानी 0.49 फीसदी की बढ़त के साथ 51,354.15 पर ट्रेड कर रहा था, वहीं NSE निफ्टी 50, 22.60 अंकों यानी 0.15 फीसदी की बढ़त लेकर 15,131 पर ट्रेड कर रहा था.

कल क्या था बाजार का हाल?

बता दें कि मंगलवार को बीएसई सेंसेक्स और एनएसई निफ्टी दोनों ही मामूली गिरावट के साथ बंद हुए थे. सूचना प्रौद्योगिकी, दैनिक उपयोग का सामान बनाने वाली कंपनियों (एफएमसीजी) और वाहन कंपनियों के शेयरों में मुनाफावसूली के बीच यह हल्की गिरावट दर्ज की गई थी.

तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स एक समय 487 अंक मजबूत होकर 51,835.86 अंक के उच्चतम स्तर तक चला गया था, लेकिन बाद में तेजी बरकरार नहीं रही और अंत में यह 19.69 अंक यानी 0.04 प्रतिशत की गिरावट के साथ 51,329.08 अंक पर बंद हुआ. सी तरह, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 6.50 अंक यानी 0.04 प्रतिशत की मामूली गिरावट के साथ 15,109.30 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान यह रिकॉर्ड 15,257.10 अंक तक चला गया था.

rgyan app

सेंसेक्स के शेयरों में सर्वाधिक नुकसान में महिंद्रा एंड महिंद्रा रही. इसमें 3.62 प्रतिशत की गिरावट आयी. नुकसान में रहने वाले अन्य शेयरों में बजाज फाइनेंस, आईटीसी, सन फार्मा, बजाज ऑटो, बजाज फिनसर्व और टीसीएस शामिल हैं. दूसरी तरफ, लाभ में रहने वाले शेयरों में एशियन पेंट्स, ओएनजीसी, टाइटन, एल एंड टी, एक्सिस बैंक और अल्ट्राटेक सीमेंट शामिल हैं. इनमें 3.70 प्रतिशत तक की तेजी आयी.

एशिया के अन्य बाजारों में शंघाई कंपोजिट इंडेक्स, हांगकांग का हैंगसेंग और जापान का निक्की लाभ में, जबकि दक्षिण कोरिया का कोस्पी नुकसान में रहा. यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरूआती कारोबार में गिरावट का रुख रहा. इस बीच, वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.40 प्रतिशत बढ़त के साथ 60.94 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये की विनिमय दर 10 पैसे मजबूत होकर 72.87 पर रही. इधर, शेयर बाजार के पास उपलब्ध आंकड़े के अनुसार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (एफपीआई) घरेलू पूंजी बाजार में शुद्ध लिवाल रहे. उन्होंने सोमवार को 1,876.60 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

स्रोतkhabar.ndtv.com
पिछला लेखउत्तराखंड त्रासदी : 32 शव बरामद, सुरंग में फंसे 34 लोगों को निकालने का अभियान जारी
अगला लेखसोशल मीडिया पर पाकिस्तानी डिजाइनर की तस्वीरोंं पर क्यों मचा बवाल, मामला दहेज से जुड़ा है