इन लोगों को नहीं करना चाहिए गन्ने के जूस का सेवन, हो सकती हैं कई दिक्कतें

गर्मियों का मौसम आते ही जगह-जगह पर गन्ने के रस का स्टॉल लग जाते हैं। जब गन्ने का रस निकाला जाता है, तो उसमें केवल पंद्रह प्रतिशत कच्ची चीनी होती है जो आपके कुछ फलों के रस या स्मूदी से काफी कम होता है। गन्ने के रस का ग्लाइसेमिक इंडेक्स (जीआई) कम है।

गन्ने के रस में भरपूर मात्रा में कैल्शियम, तांबा, मैग्नीशियम, मैंगनीज, जस्ता, आयरन और पोटेशियम जैसे महत्वपूर्ण तत्व भी होते हैं। यह विटामिन ए, बी1, बी2, बी3 और सी का समृद्ध स्रोत है। जिसके कारण जॉन्डिस, एनीमिया, कैंसर जैसी खतरनाक बीमारियों से बचाता है। जहां एक ओर इसके ढेरों स्वास्थ्य लाभ है। वहीं कई लोगों के लिए यह नुकसानदेय साबित हो सकता है। जानिए किन लोगों को गन्ने के रस का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

इन लोगों को नहीं करना चाहिए गन्ने के रस का सेवन

Get-Detailed-Customised-Astrological-Report-on

खून को कर सकता है पतला

गन्ने के रस में पोलीकोसैनॉल नाम तत्व पाया जाता है। जिसके कारण आपका खून पतला हो सकता है। इसलिए इसका सेवन ज्यादा नहीं करना चाहिए।

डायबिटीज

गन्ने में चीनी की मात्रा अधिक होने के बावजूद भी ये शुगर के मरीजों के लिए फायेदमंद बताया जाता है। 240 एमएल गन्ने के जूस में 50 ग्राम चीनी होती है, जो कि 12 चम्मच के बराबर है। हालांकि, गन्ने के रस में कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स (जीआई) होता है और अधिक मात्रा में ग्लाइसेमिक लोड (जीएल) होता है। जिसके कारण आपके ब्लड शुगर लेवल को प्रभावित करता है। इसलिए डायबिटीज के मरीजों को इसका सेवन करने से बचना चाहिए।

कोलेस्ट्राल

अगर आपको पहले से ही कोलेस्ट्राल बढ़ा हुआ हैं तो इसका सेवन ना करे। इससे बैड कोलेस्ट्राल अधिक मात्रा में बढ़ सकता है।

पाचन तंत्र

गन्ना के रस में पाया जाने वाला पोलीकोसैनॉल पाचन तंत्र पर भी बुरा प्रभाव डालता है। जिसके कारण आपको पेट दर्द, डायरिया जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है। इसलिए अगर आपका पाचन तंत्र थोड़ा सा भी कमजोर हैं तो एक बार किसी डॉक्टर या डायटीशियन से जरूर सलाह लें।

वजन करे कम

अगर आप वजन कम करने की सोच रहे हैं तो यह आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। गन्ने के रस में ऐसे गुण पाए जाते हैं तो शरीर के फैट को कम करने में मदद करते हैं। वहीं अगर आपका वजन बहुत कम है तो इसका सेवन करने से बचना चाहिए। इससे आप अंडरवेट हो सकते हैं।

अनिद्रा की शिकायत

अगर आपको पहले से ही स्ट्रेस या किसी कारण अनिद्रा की समस्या हैं तो गन्ने के जूस का ज्यादा सेवन ना करें। क्योंकि इसमें पाया जाने वाला पोलीकोसैनॉल आपकी नींद हो उड़ा सकता है। जिससे आपको अनिद्रा की समस्या हो सकती है।

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

सिरदर्द

गन्ने के रस की तासीर ठंडी होती है। इसके साथ ही इसमें पाया जाने वाला पोलीकोसैनॉल आपको सिरदर्द की समस्या दे सकता है।

सर्दी-जुकाम

अगर आपको सर्दी-जुकाम की समस्या हैं तो गन्ने का रस नहीं पिया चाहिए। क्योंकि इसकी तासीर ठंडी होती है। जिसका अधिक सेवन करने से आप जकड़ सकते हैं। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखआपातकाल के दौरान कांग्रेस ने लोकतांत्रिक मूल्यों को रौंदा, काले दिन को कभी भुलाया नहीं जा सकता: पीएम मोदी
अगला लेखAshad Mass 2021: आषाढ़ मास शुरू, जानें इस माह पड़ने वाले सभी व्रत और त्योहार