Somvar Ke Upay: सोमवार के दिन करें ये खास उपाय, मनोकामना पूरी होने की है मान्यता

आज (6 जून) ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष की षष्ठी तिथि और सोमवार का दिन है। षष्ठी तिथि 6 जून सुबह 6 बजकर 41 मिनट तक रहेगी, उसके बाद सप्तमी तिथि लग जायेगी। पूरा दिन पार कर के अगली भोर 4 बजकर 52 मिनट तक हर्षण योग रहेगा। हर्ष का अर्थ होता है खुशी, प्रसन्नता। अत: इस योग में किए गए कार्य खुशी ही प्रदान करते और भाग्य का साथ बना रहता है।

जानिए आचार्य इंदु प्रकाश से शुभ फलों की प्राप्ति के लिए आपको कौन-से विशेष उपाय करने चाहिए।

अगर आपके घर में हमेशा किसी न किसी चीज का अभाव बना रहता है, तो इस दिन अपने घर के आसपास किसी मंदिर में जाकर गाय के घी का दीपक जलाएं और हाथ जोड़कर भगवान से प्रार्थना करें। ऐसा करने से आपके घर में कभी किसी चीज का अभाव नहीं रहेगा।
अगर आप अपने जोड़ों के दर्द की समस्या से छुटकारा पाना चाहते हैं, तो इस दिन आपको केतु का उपाय करना चाहिए। इस दिन आपकोकेतु यंत्र की स्थापना करके उसकी उचित प्रकार से पूजा करनी चाहिए और उस पर केतु के मंत्र का जप करना चाहिए। केतु का मंत्र इस प्रकार है – ‘ॐ स्रां स्रीं स्रौं स: केतवे नम:’ इस मंत्र का जितना ज्यादा जप करेंगे, आपका यंत्र उतना ही प्रभावशाली होगा, लेकिन ध्यान रहे जप शुरू करने से पहले ही आपको जितना जप करना है, उसका संकल्प ले लें। इस प्रकार जप करने के बाद घर में उचित स्थान पर यंत्र की स्थापना कर लें। ऐसा करने से आपको जोड़ों के दर्द की समस्या से जल्द ही छुटकारा मिलेगा और आपका स्वास्थ्य बेहतर बना रहेगा।
अगर आप अपनी संतान के भविष्य को लेकर हमेशा चिंतित रहते हैं या आप चाहते हैं कि उसे जीवन में एक बेहतर मार्ग मिल सके, तो इस दिन अपनी संतान के हाथों से किसी जरूरतमंद को काले कंबल का दान करवाएं। ऐसा करने से आपकी संतान को जीवन में एक बेहतर मार्ग मिलेगा और उसके भविष्य को लेकर आपकी सारी चिंताएं दूर होगी।
अगर आप कुछ दिनों से कमर दर्द की समस्या से परेशान है, तो इस दिन मंदिर में काले तिल का दान करें। साथ ही बरगद के पेड़ की रोली,चावल से पूजा करें। ऐसा करने से आपको कमर दर्द की समस्या से छुटकारा मिलेगा।
अगर आप किसी से प्यार करते हैं और उसे अपना जीवनसाथी बनाना चाहते हैं, तो इस दिन गणेश जी को हरे वस्त्र और दूर्वा चढ़ाएं। साथ ही भगवान के सामने हाथ जोड़कर विनती करें। ऐसा करनेसे आपको अपना मनपसंद जीवनसाथी जरूर मिलेगा।
अगर आप लेखन कार्य में विशेष लाभ पाना चाहते हैं, तो सइ दिन किसी ब्राह्मण को उनकी जरूरत की कोई चीज दान करें। साथ ही केतु के मंत्र का 21 बार जप करें। मंत्र है – ‘ॐ स्रां स्रीं स्रौं स: केतवे नम:’ ऐसा करने से आपको लेखन कार्य में विशेष लाभ मिलेगा।
अगर आप अपने वैवाहिक जीवन को सुखमय बनाना चाहते हैं, तो इस दिन मंदिर में तिल की बर्फी दान करें। ऐसा करने से आपका वैवाहिक जीवन सुखमय बना रहेगा।
अगर आप अपने शत्रुओं पर विजय पाना चाहते हैं, तो इस दिन मंदिर में केले का फलदान करें। ऐसा करने से आप अपने शत्रुओं पर विजय पाने में सफल होंगे।
अगर आपके किसी महत्वपूर्ण कार्य के प्रारम्भ में ही बहुत-सी रुकावटे आ रही हैं, तो इस दिन केले के पत्ते पर एक मुट्ठी चावल रखकर मंदिर में दान कर दें। ऐसा करने से आपके काम बिना किसी रुकावट के पूरे होंगे।
अगर आप अपनी योग्यता और ज्ञान से सब कुछ हासिल कर लेना चाहते हैं, तो इस दिन बरगद के पेड़ के पास जाकर धूप दिखाएं। साथ ही उसके तने को छूकर नमस्कार करें। ऐसा करने से आप अपनी योग्यता और ज्ञान से सब कुछ हासिल करने में सक्षम होंगे।
अगर आप डेंटिस्ट का काम करते हैं, तो उसमें सफलता पाने के लिए इस दिन एक बर्तन में जल लेकर, उसमें कुमकुम डालें और प्रार्थना करते हुए बरगद के पेड़ की जड़ में चढ़ाएं। साथ ही अपने भांजे को शर्ट गिफ्ट करें। ऐसा करने से आपको अपने काम में सफलता जरूर मिलेगी।
अगर आप अपने परिवार के साथ संबंधों को बेहतर और मजबूत बनाये रखना चाहते हैं, तो इस दिन गणेश जी को हल्दी का तिलक लगाएं। साथ ही उन्हें पुष्प अर्पित करें। ऐसा करने से परिवार के साथ आपके संबंध बेहतर और मजबूत होंगे।

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखAaj Ka Panchang 6 June 2022: जानिए सोमवार का पंचांग, राहुकाल, शुभ मुहूर्त और सूर्योदय-सूर्यास्त का समय
अगला लेखNirjala Ekadashi 2022: 10 जून को किया जाएगा निर्जला एकादशी का व्रत , इस दिन न करें ये काम