कोरोना के केस बढ़ने पर दोबारा लग सकता है लॉकडाउन: जेपी मॉर्गन

वैश्विक इंवेस्टमेंट बैंकर जेपी मॉर्गन स्टेनले का मानना है कि यदि देश में कोरोना के मामलों में तेज वृद्धि जारी रहती है तो भारत में एक बार फिर लॉकडाउन लगाना पड़ सकता है. कोरोना की महामारी ने पिछले एक साल में दुनियाभर में तबाही मचाई है. भारत में इसकी दूसरी लहर दिख रही है. महाराष्ट्र सहित कुछ राज्यों में इसके मामले तेजी से बढ़ रहे हैं.

astrologi report

जेपी मॉर्गन ने कहा, “कोविड-19 संक्रमण रोकने के लिए स्थानीय प्रशासन ने कुछ पाबंदियां लगाई हैं. मगर इसके आर्थिक असर को देखते हुए वे लॉकडाउन लगाने से गुरेज कर रही हैं. हालांकि, यदि मामले तेजी से बढ़ते हैं और स्वास्थ इंफ्रास्ट्रक्चर पर दबाव बढ़ता है तो नए सिरे से लॉकडाउन लगाया जा सकता है.” घरेलू शेयर बाजार के प्रमुख सूचकांक अपने शिखर स्तरों से 6 फीसदी तक नीचे हैं. सूचकांक मध्य फरवरी में रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गए थे. अमेरिकी डॉलर में तेजी, बॉन्ड यील्ड में उछाल और कोरोना वायरस मामलों की बढ़ती रफ्तार ने बाजार पर दबाव बनाया है.

जेपी मॉर्गन ने कहा है कि अभी तक नए मामले कुछ राज्यों तक सीमित दिख रहे हैं. खासतौर पर महाराष्ट्र से 60 फीसदी नए मामले आ रहे हैं. ऐसे में दूसरी लहर का असर स्थानीय स्तर पर बना रहेगा. हालांकि, संपर्क आधारित सेवाओं पर कोरोना का दूसरी लहर का अधिक असर पड़ने वाला है.

rgyan app

ब्रोकरेज ने कहा है कि नए मामले अन्य राज्यों में भी धीमे-धीमे बढ़ रहे हैं. इस फर्म का मानना है कि अभी तक देशव्यापी स्तर पर आर्थिक गतिविधियां प्रभावित होने के आसार नजर नहीं आ रहे हैं. ब्रोकरेज का मानना है कि वैक्सीनेशन की भूमिका भी काफी अहम रहने वाली है. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here