ये हैं अमेरिका की 5 टॉप कंपनियां, जिनका टर्नओवर कई देशों की GDP से भी ज्यादा

अमेरिका दुनिया का न सिर्फ सबसे पुराने और विशाल लोकतांत्रिक देशों में से एक है, वहां कॉरपोरेट जगत भी काफी विकसित और विशाल हो चुका है. अमेरिका की कई ऐसी कंपनियां हैं जिनकी सालाना बिक्री तो दुनिया के दर्जनों देशों की जीडीपी से भी ज्यादा होती है. आइए जानते हैं कि मार्केट कैपिटल के लिहाज से अमेरिका की टॉप 5 बड़ी कंपनियां कौन हैं और उनका टर्नओवर कितना है? आइए जानिए रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन चीफ अर्नब गोस्वामी गिरफ्तार.

Apple

दिग्गज इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी ऐपल के मोबाइफ फोन व अन्य उत्पादों की दुनियाभर में प्रतिष्ठा है. ​साल 2019 में कंपनी की बिक्री 2 फीसदी घटकर 26,017.4 करोड़ डॉलर रह गई. उसे करीब 5525.6 करोड़ डॉलर का मुनाफा हुआ. हालांकि घटने के बावजूद यह बिक्री इतनी ज्यादा है कि पूरे अफ्रीका महाद्वीप में सिर्फ तीन देशों नाइजीरिया, साउथ अफ्रीका और इजिप्ट (मिस्र) की जीडीपी इससे ज्यादा है, बाकी सभी की जीडीपी इससे कम है. यही नहीं एशिया में नेपाल, श्रीलंका, म्यांमार, कुवैत, इराक, अफगानिस्तान, मालदीव, भूटान जैसे कई देशों की जीडीपी से भी यह ज्यादा है. पाकिस्तान की जीडीपी इससे थोड़ी ही ज्यादा है.

बिक्री में करीब 55 फीसदी हिस्सा iPhone का है. कंपनी में करीब 1,37,000 कर्मचारी काम करते हैं. फोर्ब्स के मुताबिक कंपनी का मार्केट कैप यानी बाजार पूंजी करीब 1.88 लाख करोड़ डॉलर का है.

Microsoft Corp

माइक्रोसॉफ्ट कॉर्प मार्केट कैपिटल के हिसाब से अमेरिका की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी है. दुनिया के दिग्गज कारोबारी बिल गेट्स द्वारा स्थापित यह कंपनी सॉफ्टवेयर, सर्विसेज, डिवाइस और सोल्युशन के कारोबार में लगी है. फोर्ब्स के मुताबिक इसका मार्केट कैपिटल यानी बाजार पूंजी 1.56 लाख करोड़ डॉलर है. कंपनी ने पिछले साल करीब 138.6 अरब डॉलर की बिक्री की थी.

पूरे अफ्रीका महाद्वीप में सिर्फ चार देशों नाइजीरिया, साउथ अफ्रीका और इजिप्ट (मिस्र) की जीडीपी इससे ज्यादा है. कंपनी की बिक्री एशिया के नेपाल, श्रीलंका, म्यांमार, कुवैत, अफगानिस्तान, मालदीव, भूटान जैसे कई देशों की जीडीपी से भी ज्यादा है. इसमें 1.44 लाख कर्मचारी काम करते हैं.

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

Amazon.com

दुनिया की दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी एमेजॉन के फाउंडर जेफ बेजोस दुनिया के सबसे अमीर शख्स हैं. उन्होंने साल 1994 में Amazon की स्थापना की थी. साल 2019 में बिक्री 29,627 करोड़ डॉलर की थी. इसमें कंपनी को करीब 1160 करोड़ डॉलर का मुनाफा हुआ. पूरे अफ्रीका महाद्वीप में सिर्फ तीन देशों नाइजीरिया, साउथ अफ्रीका और इजिप्ट (मिस्र) की जीडीपी इससे ज्यादा है. इसी तरह एशिया में पाकिस्तान, नेपाल, श्रीलंका, म्यांमार, कुवैत, इराक, अफगानिस्तान, मालदीव, भूटान जैसे कई देशों की जीडीपी से भी यह ज्यादा है.

इसके प्राइम डिलिवरी और एंटरटेनमेंट सब्सक्रिप्शन सर्विस से दुनियाभर में करीब 15 करोड़ ग्राहक जुड़े हैं. इसमें करीब 7.98 लाख कर्मचारी काम करते हैं. फोर्ब्स के मुताबिक कंपनी का मार्केट कैप करीब 1.53 लाख करोड़ रुपये का है.

Alphabet, Inc. (गूगल)

मार्केट कैप के लिहाज से अमेरिका की चौथी सबसे बड़ी कंपनी है गूगल की पेरेंट कंपनी Alphabet, Inc. इस कपनी के गूगल के अलावा अन्य ब्रैंड में एंड्रॉयड, क्रोम, हार्डवेयर, गूगल क्लाउड, गूगल मैप्स, यूट्यूब आदि शामिल हैं. इसकी स्थापना लॉरेंस ई पेज और एस. मिखाइलोविच ब्रिन ने साल 2015 में की थी. फोर्ब्स के मुताबिक इसकी बाजार पूंजी करीब 1.11 लाख करोड़ डॉलर है.

rgyan app

कंपनी ने पिछले साल 16,630 करोड़ डॉलर की बिक्री की थी. इसमें करीब 1.19 लाख कर्मचारी काम करते हैं. पूरे अफ्रीका महाद्वीप में सिर्फ चार देशों नाइजीरिया, साउथ अफ्रीका, इजिप्ट और अल्जीरिया की जीडीपी इससे ज्यादा है. ​एशिया की बात करें तो कुवैत, श्रीलंका, नेपाल, भूटान जैसे कई देशों की जीडीपी इससे कम है. Reach out to the best Astrologer at Jyotirvid.

Facebook, Inc.

यह वही कंपनी है जिसका सोशल मीडिया ऐप्लीकेशन दुनियाभर में लोकप्रिय है. कंपनी के खाते में फेसबुक के अलावा इंस्टाग्राम, व्हाट्सऐप और ओकुलस जैसे ऐप भी हैं. फेसबुक ने भारत के रिलायंस जियो में भी मोटा निवेश कर रखा है. इसकी स्थापना मार्क जकरबर्ग ने चार अन्य निवेशकों के साथ मिलकर की थी.

फोर्ब्स के मुताबिक फेसबुक का मार्केट कैपिटल करीब 75,565 करोड़ डॉलर है. इसमें करीब 45 हजार कर्मचारी काम करते हैं. कंपनी ने पिछले साल करीब 7340 करोड़ डॉलर की बिक्री की थी. अफ्रीका महाद्वीप में सिर्फ आठ देशों की जीडीपी इससे ज्यादा है. एशिया की बात करें तो नेपाल, कम्बोडिया, भूटान जैसे कई देशों की जीडीपी इससे कम है. और अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here