Home राजनीति अब्दुल समद की फर्जी खबर के जरिए यूपी के कई शहरों में...

अब्दुल समद की फर्जी खबर के जरिए यूपी के कई शहरों में उन्माद भड़काने की थी साजिश, सपा नेता पर आरोप: सूत्र

गाजियाबाद के लोनी बॉर्डर के पास मुस्लिम बुजुर्ग अब्दुल समद की पिटाई को लेकर शुरू हुआ विवाद कम होने का नाम नहीं ले रहा है। इंडिया टीवी को सूत्रों से ऐसी जानकारी मिली है कि अब्दुल समद की पिटाई को धार्मिक रंग देकर और उसको बड़ा मुद्दा बनाकर उत्तर प्रदेश के अलीगढ़, मुरादाबाद, देवबंद, सहारनपुर तथा पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई और शहरों में उन्माद भड़काने की साजिश की गई थी। सूत्रों के अनुसार समाजवादी पार्टी नेता उम्मेद पहलवान पर उन्माद भड़काने की साजिश रचने का आरोप है।

सपा नेता उन्मेद पहलवान ने ही अब्दुल समद का फेसबुक लाइव किया था और फेसबुक लाइव के दौरान दावा किया गया था कि अब्दुल समद की जबरदस्ती पिटाई की गई और उसे जय श्रीराम बोलने के लिए कहा गया, तथा उसकी दाढ़ी भी काटी गई। लेकिन बाद में पुलिस की जांच में यह बात झूठ निकली और पाया गया कि अब्दुल समद ने परवेश गुर्जर नाम के व्यक्ति को कोई ताबीज बनाकर दिया था और परवेश गुर्जर का दावा था कि ताबीज की वजह से उसके घर पर नुकसान हुआ है। जिसके बाद परवेश गुर्जर ने अपने कुछ मुस्लिम साथियों के साथ मिलकर अब्दुल समद की पिटाई की थी।

मामले को सांप्रदायिक रंग देने और उन्माद फैलाने की साजिश रचने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस ने समाजवादी पार्टी नेता उन्मेद पहलवान के खिलाफ गंभीर धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया। उत्तर प्रदेश पुलिस उन्मेद पहलवान की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी भी कर रही है और वह पुलिस के डर से कहीं छिपा हुआ है।

इस बीच पिटने वाले व्यक्ति अब्दुल मसद का एक और वीडियो सामने आया है जिसमें वह कह रहा है कि, इंतजार नाम के व्यक्ति ने उससे परवेज गुर्जर को ऐसा ताबीज बनाकर देने के लिए कहा था जिससे परवेज गुर्जर इंतजार के वश में आ जाए। अब्दुल मसद के इस वीडियो में उसकी दाढ़ी कटी हुई नजर नहीं आ रही जबकि फेसबुक लाइव के दौरान उसकी दाढ़ी कटी हुई देखी गई थी। दावा किया जा रहा है कि नया वीडियो अब्दुल मसद की पिटाई से पहले का है, हालांकि इंडिया टीवी इस वीडियो की पुष्टि नहीं करता है। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

Exit mobile version