वास्तु टिप्स: ईशान कोण के अलावा इस दिशा में रखनी चाहिए मिट्टी से बनी चीजें, मिलेगा विशेष लाभ

वास्तु शास्त्र में आज आचार्य इंदु प्रकाश से जानें नैऋत्य कोण, यानी दक्षिण-पश्चिम दिशा में मिट्टी की चीज़ों को रखने के बारे में। जी हां, वास्तु शास्त्र के अनुसार नैऋत्य कोण, यानी दक्षिण-पश्चिम दिशा में भी मिट्टी की चीज़ों को रखा जा सकता है। 

दरअसल वास्तु शास्त्र के अनुसार ईशान कोण, यानी उत्तर-पूर्व दिशा की तरह ही दक्षिण-पश्चिम दिशा का संबंध भी पृथ्वी तत्व से है। अतः आप दक्षिण-पश्चिम दिशा में भी मिट्टी से संबंधित चीज़ों को रख सकते हैं। इस दिशा में अगर मिट्टी से संबंधित भारी चीज़ों को रखा जाये, तो अधिक फायदा होता है।

जैसे अगर आपको बगीचे में मिट्टी के बड़े गमले लगवाने हैं, तो आपदक्षिण-पश्चिम दिशा में लगवाइए, लेकिन अगर आपको मिट्टी के छोटे गमले लगवाने हैं, तो आप ईशान कोण, यानी उत्तर-पूर्व दिशा में लगवाइए। इससे आपको काफी लाभ मिलेगा।