Vastu Tips: घर में तुलसी का पौधा लगाते समय बिल्कुल भी न करें ये गलतियां, दरिद्रता का होगा वास

हिंदू धर्म में तुलसी के पौधे को पूजनीय माना जाता है। तुलसी के पौधे को वास्तु दोष खत्म करने वाला माना जाता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार तुलसी के पौधे से घर में सकारात्मक ऊर्जा पैदा होती है और नकारात्मक ऊर्जा नष्ट हो जाती है। तुलसी के पौधे में रोजाना सुबह जल देने से कई तरह के वास्तु दोष दूर हो जाते हैं। विष्णु पूजा में तुलसी सबसे महत्वपूर्ण मानी जाती है।

तुलसी का पौधा तो हर किसी के घर पर आसानी से मिल जाता है। लेकिन इस पौधे को लगाने के कुछ नियम है जिनका जरूर पालन करना चाहिए अन्यथा अशुभ फलों की प्राप्ति होती है और घर पर दुर्भाग्य का वास हो जाता है। जानिए वास्तु शास्त्र के अनुसार तुलसी का पौधा घर पर हैं तो किन बातों का ध्यान रखना जरूरी है।

सही जगह का करें चुनाव

घर में तुलसी का पौधा लगाने के लिए उत्तर और उत्तर-पूर्व दिशा में को चुनें। क्योंकि ये दिशा पानी की है, जिसकी वजह से तुलसी घर में प्रवेश करने वाली हर निगेटिव एनर्जी को दूर भगा देती है।

जमीन पर न लगाएं तुलसी

अधिकतर देखा गया है कि तुलसी से पौधे को जमीन आदि में लगा देते हैं। लेकिन वास्तु के अनुसार यह बिल्कुल भी सही नहीं माना जाता है। इससे आपको शुभ फलों की प्राप्ति नहीं होगी। तुलसी के पौधे को हमेशा घर के मूल आधार से ऊंचा रखकर लगाना चाहिए। इसके लिए आप गमला या फिर आंगन में एक चबूतरा बनाकर लगा सकते हैं।

तुलसी की हो इतनी संख्या

वास्तु शास्त्र के अनुसार तुलसी के पौधे संख्या कभी भी सम जैसे 2, 4, 6 के रूप में ना रखें बल्कि तुलसी के पौधों को विषम संख्या में रखें जैसे 1, 3, 5 आदि। इससे आपको शुभ फलों की प्राप्ति होगी।

इन पौधों के पास न रखें तुलसी का पौधा

अगर आपके घर पर अधिक पेड़-पौधें है तो इस बात का ध्यान रखें कि तुलसी के पौधे को कैक्टस जैसे पौधों की किसी भी प्रकार की खुरदरी या कांटेदार प्रजाति के पास न रखें। इससे आपको अशुभ फलों की प्राप्ति होगी।

तुलसी के पास न रखें ये चीजें

तुलसी के पौधे के पास कोई भी गंदी चीजें नहीं रखनी चाहिए। इससे अशुभ फलों की प्राप्ति होती हैं। इसलिए कभी भी तुलसी के पौधे के पास झाड़ू या जूता-चप्पल नहीं होना चाहिए।

astro

महिलाएं बाल खोलकर न करें तुलसी पूजन

अक्सर महिलाएं खुले बालों से तुलसी को जल अर्पण करने लगती हैं। वास्तु के अनुसार ऐसा नहीं करना चाहिए। क्योंकि तुलसी को भगवान विष्णु ने सदा सुहागन रहने का वरदान दिया है और इसके लिए उन्हें सिर पर स्थान दिया है। सौभाग्य वृद्धि के लिए बालों को बांधकर और मांग में सिंदूर लगा तुलसी को जल देना चाहिए।

इस तरह की तुलसी तुरंत करें प्रवाहित

अगर तुलसी का पौधा सूख चुका हो तो उसे घर में न रखें। इसे किसी मंदिर या नदी में विसर्जित कर दें क्‍योंकि सूखी हुई तुलसी घर के लिए अशुभ होती है। यह भविष्य में होने वाले किसी संकट का संकेत हो सकता है। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखदैनिक राशिफल 28 सितंबर 2021: मेष राशि वाले स्टूडेंट्स के लिए दिन फायदेमंद रहेगा, जानें अन्य का हाल
अगला लेख10 ग्राम सोने के भाव में आई भारी गिरावट, रिकॉर्ड हाई से 10,200 रुपये मिल रहा सस्ता, जानें आज का भाव?