Vastu Shastra: घर की इस दिशा में भूलकर भी न बनवाएं किचन या टॉयलेट

हिंदू धर्म में वास्तु शास्त्र का काफी महत्व है, वास्तु शास्त्र में घर की साज-सज्जा से लेकर मकान-भवन, ऑफिस बनवाने को लेकर कई सारी बातें कही गई हैं। किस दिशा में रसोई होनी चाहिए और किस दिशा में शौचालय वास्तु शास्त्र में इसका भी जिक्र है। वास्तु इसलिए जरूरी होता है क्योंकि पृथ्वी पर पॉजिटिव और निगेटिव एनर्जी होती है, अगर वास्तु के हिसाब से घर की साज-सज्जा और निर्माण है तो एनर्जी हमें कई फायदे पहुंचाती है, वहीं गलत वास्तु की वजह से निगेटिव एनर्जी हावी हो सकती है। वास्तु टिप्स में आज हम आपको बताएंगे कि घर की उत्तर-पूर्व दिशा में कौन-कौन सी चीजें नहीं बनवानी चाहिए।

यदि आपने अपने घर की उत्तर-पूर्व दिशा में स्टोर रूम या भंडार ग्रह बनवा रखा है तो जान लीजिये कि वास्तु शास्त्र के अनुसार यह बिल्कुल गलत है। यह इस दिशा को दूषित करने का पहला कारण है। इस दिशा में स्टोर रूम का निर्माण करवाने से पिता–पुत्र के संबंधों में परेशानियां आती हैं और दोनों के बीच अविश्वास बढ़ता है। स्टोर रूम के अलावा इस दिशा में रसोई घर या शौचालय भी नहीं बनवाना चाहिए। इससे पूरे परिवार की सेहत पर विपरीत असर पड़ता है। वास्तु शास्त्र में ये थी चर्चा कि उत्तर-पूर्व दिशा में क्या नहीं बनवाना चाहिए, उम्मीद है आप इस वास्तु टिप्स को अपनकार जरूर लाभ उठायेंगे।

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखSomvati Amavasya 2022: शनि दोष, शनि की महादशा और पितृ दोष दूर करने के लिए सोमवती अमावस्या के दिन करें ये उपाय
अगला लेखयोग और नेचुरोपैथी से कैसे उतारें आंखों पर चढ़ा मोटा चश्मा? स्वामी रामदेव से जानिए योगासन, प्राणायाम और उपाय