Vastu Tips: होटल का मुख्य द्वार ईशान कोण सहित इस दिशा पर बनवाएं, होगा शुभ

वास्तु शास्त्र में आज जानिए होटल के मुख्य प्रवेश द्वार के बारे में। वास्तु शास्त्र के अनुसार होटल में मुख्य द्वार के निर्माण के लिए ईशान कोण, यानि उत्तर पूर्व दिशा का कोना सबसे अच्छा माना जाता है। लेकिन अगर इस दिशा में निर्माण करवाने में कोई अड़चन आ जाये तो आप उत्तर दिशा या पूर्व दिशा का चुनाव भी कर सकते है।

Get-Detailed-Customised-Astrological-Report-on

भूखंड के आधार पर भी मुख्य द्वार के लिए दिशा का चुनाव किया जाता है। यदि भूखंड उत्तर मुखी या पूर्व मुखी है तो मुख्य द्वार का निर्माण ईशान कोण में करवाना ठीक रहता है। यदि भूखंड दक्षिण मुखी है तो मुख्य द्वार आग्नेय कोण, यानि दक्षिण-पूर्व में बनवाना चाहिए. इसके अलावा यदि भूखंड पश्चिम मुखी है तो मुख्य द्वार के लिए वायव्य कोण, यानि उत्तर-पश्चिम दिशा उत्तम रहती है। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखSheetala Ashtami 2021: सुख-समृद्धि और रोगों से मुक्ति के लिए शीतला अष्टमी पर करें ये उपाय
अगला लेखभारत के इन 5 मंदिरों में पुरुषों की एंट्री है बैन, महिलाएं ही कर सकती हैं पूजा