Vastu Tips: कमरे के अंदर न बनवाएं अटैच बाथरूम, इसके साथ ही ध्यान रखें ये बातें

वास्तु शास्त्र में आज जानिए बाथरूम के रंग के बारें में। वैसे तो आजकल के मॉडर्न टाइम में लोग बाथ रूम और टॉयलेट दोनों अटैच करके बनवाते हैं। हर कमरे के साथ एक अलग अटैच बाथरूम और टॉयलेट। लेकिन वास्तु शास्त्र के अनुसार बाथरूम और टॉयलेट को एक साथ अटैच करके नहीं बनवाना चाहिये और खासकर कि कमरे के अंदर तो बिलकुल भी नहीं।

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

अगर रंगों की बात करें तो बाथरूम या टॉयलेट की दीवारों पर सफेद, गुलाबी, हल्का पीला या हल्का आसमानी रंग बेहतर ऑप्शन है। वहीं अगर बाथरूम की टाइल्स की बात करें तो हमेशा लाइट कलर का उपयोग करें, गहरे रंग की टाइल्स न लगाएं। टाइल्स का रंग सफेद, आसमानी या ब्लू होना चाहिए। ये रंग बाथरूम को बिलकुल फ्रेश लुक देते हैं। वहीं काले और लाल जैसे गहरे रंगों से बचें। यहां तक कि वास्तु के हिसाब से बाथरूम में रखी बाल्टी के रंग का भी ध्यान रखना चाहिये। बाथरूम में नीले रंग की बाल्टी रखें। वास्तु के अनुसार यह शुभ भाग्य का वाहक है। इससे घर में खुशियां आती हैं। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतwww.indiatv.in
पिछला लेखलव राशिफल 03 फरवरी 2021: आपके प्रेम और वैवाहिक जीवन के लिए कैसा रहेगा दिन
अगला लेखसेंसेक्स | शेयर बाजार: मजबूत आगाज, रिजर्व बैंक की बैठक पर नजरें