वास्तु टिप्स: उत्तर-पश्चिम दिशा में करा रहे हैं शौचालय का निर्माण तो जरूर बरतें ये सावधानियां

वास्तु शास्त्र में कल हमने उत्तर-पश्चिम दिशा में शौचालय के निर्माण के बारे में बात की थी और आज आचार्य इंदु प्रकाश से जानिए कि अगर इस दिशा में बनवा रहे हैं तो क्या सावधानियां बरतनी चाहिए।  उत्तर-पश्चिम दिशा में शौचालय का निर्माण नहीं करवाना चाहिए, लेकिन कुछ सावधानियों के साथ आप इस दिशा में शौचालय या उसके शोक पिट का निर्माण करवा सकते हैं।

पहली सावधानी की बात ये है कि शोक पिट का गड्ढा ठीक उत्तर-पश्चिम में न होकर थोड़ा-सा पश्चिम या उत्तर की ओर खिसका होना चाहिए और यही हाल शौचालय का भी होना चाहिए। 

यह भी पढ़े: जिस घर में रहती हैं ये 5 चीजें, उस घर में मां लक्ष्‍मी नहीं रहतीं

दूसरी बात अगर आपके घर में उत्तर-पश्चिम दिशा में शौचालय है तो कर्ज लेते समय बहुत सावधानी बरतनी चाहिए। उन्हीं नक्षत्रों में कर्ज लेना चाहिए जिनमें कर्ज जल्दी उतर जाये। पिता से व्यवहार करते समय बहुत सावधानी बरतनी चाहिए।

घर में किराएदार बहुत सोच-समझकर रखना चाहिए और अपने मस्तिष्क पर नियंत्रण बनाए रखना चाहिए। इस दिशा में सफेद रंग करवाना चाहिए और जाड़े की शुरूआत में इस दिशा में सफेद फूल वाले गमले रखने चाहिए।