वास्तु टिप्स : दक्षिण-पूर्व दिशा में ना कराएं ये रंग, पड़ेगा बुरा प्रभाव

वास्तु शास्त्र में आज जानिए क्या दक्षिण-पूर्व दिशा में सफेद रंग का इस्तेमाल किया जा सकता है? अगर हां तो क्यों किया जा सकता है और नहीं तो क्यों नहीं किया जा सकता है?

सफेद रंग धातु से संबंध रखता है और दक्षिण-पूर्व दिशा का नैसर्गिक रंग, हरा, काष्ठ तत्व है। धातु से बनी आरी लकड़ी को काट देती है, तो सफेद रंग दक्षिण-पूर्व दिशा के तत्वों के लिए बेहद घातक है, लिहाजा दक्षिण-पूर्व दिशा में सफेद या सिल्वर या ग्रे रंग करवाने से प्राणों को संकट हो सकता है। बड़ी बेटी को खून की कमी हो सकती है। ग्रह स्वामी के नितम्ब में कोई कष्ट हो सकता है और डेवलपमेंट पूरी तरह रुक सकता है। व्यापार में बार-बार अड़चनें आती रहेंगी। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतwww.indiatv.com
पिछला लेखAaj Ka Panchang 18 January 2022: जानिए मंगलवार का पंचांग, शुभ मुहूर्त और राहुकाल
अगला लेखSakat Chauth 2022: सकट चौथ के हैं अलग-अलग नाम, इनसे ना हों भ्रमित