आश्रम 2 : संतों की गलत छवि दिखाने के आरोप में बॉबी देओल और प्रकाश झा को नोटिस

हाल ही में ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज हुई प्रकाश झा द्वारा निर्देशित बेवसीरीज आश्रम 2 में संतों की गलत छवि दिखाने के आरोप में जोधपुर की एक अदालत ने फिल्म अभिनेता बॉबी देओल और डायरेक्टर प्रकाश झा के खिलाफ नोटिस जारी किया है। आपको बता दें कि आश्रम पार्ट वन की सफलता के बाद नवंबर में ही पार्ट 2 रिलीज किया गया था। फिल्म में बॉबी देओल एक झांसेबाज संत की भूमिका में दिखे हैं। आइए जानिए वजन घटाने के लिए ट्राई तुलसी अजवाइन का पानी

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

मेक्स प्लेयर पर रिलीज हुई इस वेबसीरीज के लिए आरोप है कि इसके जरिए भारतीय संतों की छवि को गलत तरीके से दिखाया जा रहा है। इस सीरीज में बॉबी देओल ने तथाकथित रूप से ऐसे संतों का प्रतीकात्मक रोल निभाया है जो कई अपराधों के चलते जेल की सजा काट रहे हैं।

जोधपुर में डिस्ट्रक्ट एंड सेशन जज रविंद्र जोशी ने इन आरोपों को संज्ञान में लेते हुए बॉबी और प्रकाश झा को अपना पक्ष रखने के लिए 11 जनवरी को अदालत में पेश होने का आदेश दिया है। आपको बता दें कि बॉबी और प्रकाश झा के खिलाफ ये य़ाचिका जोधपुर के ही निवासी खुश खंडेलवाल ने दायर की है।

rgyan app

अपनी याचिका में खंडेलवाल ने कहा है कि बॉबी देओल के किरदार में जिस संत की कहानी कही गई है, उसके जरिए उन लोगों की भावनाओं को क्षति पहुंच रही है जो संतों का आदर सत्कार करते हैं औऱ उनकी भक्ति करते हैं। बॉबी ने संत के जिस किरदार को निभाया है, वो बलात्कारी है, भ्रष्टाचारी है, ड्रग डीलर दिखाया गया है जो सच्चे संतों की छवि को धूमिल करने का प्रयास है।

खंडेलवाल ने पहले इसी मामले में FIR दर्ज करवाने की कोशिश की थी लेकिन कहा जा रहा है कि FIR दर्ज नहीं हुई और उसके बाद खंडेलवाल ने कोर्ट में अर्जी दायर की। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here