22 कैरेट और 24 कैरेट सोने में अंतर समझिए, 22 कैरेट को क्यों कहा जाता है ‘916 Gold’

हर इंसान अपने जीवन में कभी न कभी सोना जरूर खरीदता है. कारण निवेश हो सकता है या फिर शादी, जन्मदिन, गिफ्ट इत्दायी के लिए गहने बनवाना. लेकिन जब भी आप सोना खरीदने जाते हैं तो दुकानदार ये बात जरूर पूछता है कि सोना 24 कैरेट चाहिए या 22 कैरेट. क्या आप जानते हैं कि ये 24 और 22 कैरेट क्या है और इन दोनों में फर्क क्या है?

यदि आप जानते हैं तो अच्छी बात है, और यदि नहीं जानते तो हम आपको इसके बारे में जानकारी देते हैं. कैरेट का सीधा संबंध शुद्धता (Purity) से है. कैरेट जितना ज्यादा होगा, सोना उतना ही ज्यादा शुद्ध होगा. इसे 0 से लेकर 24 तक ही रेट किया जाता है. तो आप को समझना चाहिए कि 24 कैरेट गोल्ड (24k Gold) सोने का सबसे शुद्धतम रूप है. और 24 कैरेट और 22 कैरेट में फर्क केवल शुद्धता का ही होता है.

24 कैरेट सोना (The 24k gold)

24 कैरेट सोना 99.9% शुद्ध होता है. आपने आमतौर पर सुना होगा ‘बिल्कुल प्योर गोल्ड’ है. तो बिल्कुल प्योर गोल्ड का मतलब है कि इसमें कोई अन्य धातु नहीं मिलाई गई होती. जहां आपको यह भी जान लेना चाहिए कि 24 कैरेट गोल्ड से ऊपर कोई गोल्ड नहीं होता. भारत में 24 कैरेट सोने की कीमतों में हर दिन बदलाव होता है. क्योंकि यह सबसे शुद्ध सोना होता है तो इसकी कीमत 22 कैरेट और 18 कैरेट गोल्ड से ज्यादा होती है. 24 कैरेट सोना काफी ज्यादा नरम होता है और इसके गहने बनाना बेहद मुश्किल काम है. इसलिए बाजार में ज्यादातर गहने 22 या फिर उससे कम कैरेट में ही मिलते हैं.

22 कैरेट सोना (The 22k gold)

22 कैरेट सोने में 22 भाग सोना होता है और दो भाग किसी अन्य धातुओं का मिश्रण होता है. अन्य धातुओं की बात करें तो इसमें जिंक और कॉपर हो सकता है. 24 कैरेट सोने के मुकाबले 22 कैरेट सोना सख्त होता है. और इसका कारण है इसमें मिलाई गई अन्य धातुएं. 22 कैरेट सोने को गहनों के लिए अच्छा माना जाता है. 22 कैरेट सोने को ‘916 गोल्ड’ भी कहा जाता है, क्योंकि इसमें 91.62 प्रतिशत शुद्ध गोल्ड होता है. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतhindi.news18.com
पिछला लेखVastu Tips: घर या ऑफिस में न रखें इस तरह के फूल, वास्तु दोष का बनते हैं कारण
अगला लेखKharmas 2021: इस दिन से शुरू होगा खरमास, एक महीने नहीं होंगे मांगलिक कार्य