Home ज्योतिष वास्तु टिप्स Vastu Tips: जानिए कौन थे लाफिंग बुद्धा? घर-घर में क्यों रखी जाती...

Vastu Tips: जानिए कौन थे लाफिंग बुद्धा? घर-घर में क्यों रखी जाती है इनकी मूर्ति?

होतेई या पु-ताई को लाफिंग बुद्धा के नाम से जाना जाता है। होतेई की छवि एक चीनी ज़ेन भिक्षु पर आधारित है जो 1000 साल पहले रहते थे। उनके उदार स्वभाव के कारण कई लोग उन्हें भावी बुद्ध मानते थे। उनके बड़े उभरे हुए पेट और मुस्कान के कारण ही उन्हें लाफिंग बुद्धा के नाम से जाना जाने लगा। उनकी छवि चीन और जापान के कई मंदिरों, रेस्तरां और घरों की शोभा बढ़ाती है। किंवदंती है कि यदि कोई लाफिंग बुद्धा के बड़े पेट को रगड़ता है तो वह धन, सौभाग्य और समृद्धि हासिल होती है।

घर में लाफिंग बुद्धा के रखने के फायदे?

लाफिंग बुद्धा की मूर्ति संपन्नता का प्रतीक मानी जाती है। समझा जाता है कि लाफिंग बुद्धा की मूर्ति लगाने से घर में सफलता और संपन्नता आती है। वास्तव में हंसते हुए लाफिंग बुद्धा की मूर्ति अपने हास्यपूर्ण रूप से घर में खुशियों की वाइब्रेशन उपलब्ध करती है। मुस्कुराना संक्रामक है और हंसी भी लगभग संक्रामक है। किसी भी हंसते हुए व्यक्ति को देखकर हमारे दांत मुंह से बाहर आने के लिए आतुर हो जाते हैं।

लाफिंग बुद्धा का भी ऐसे ही एक सुविचारित प्रतीक है। हंसती हुई मूर्ति को देखकर भी मनुष्य प्रसन्नचित हो जाता है। इसलिए इसको घर के मुख्य द्वार के सामने लगाने का विधान किया गया है, ताकि घर में आने वाला हर व्यक्ति हंसते हुए घुसे, ताकि घर के निवासी प्रसन्नचित रहे तो वहां आर्थिक संपन्नता खींची चली आती है। अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

Exit mobile version