जानें क्यों पहननी चाहिए तुलसी की माला, मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ा है कनेक्शन

हिन्दु धर्म में तुलसी (Tulsi) का अपना विशेष महत्व है. अधिकतर घरों के आंगन में तुलसी का पौधा लगाया जाता है. कहते हैं तुलसी का पौधा लगाने से घर में सुख-शांति बनी रहती है. इस पौधे को भगवान विष्णु (Lord Vishnu) का प्रिय माना जाता है इसलिए भगवान का आशीर्वाद पाने के लिए इसकी पूजा की जाती है. रोजाना सुबह नहा-धोकर तुलसी की पूजा की जाती हैं. यह भी कहा जाता है कि जिस घर के आंगन में तुलसी का पौधा होता है, वहां किसी तरह का कोई वास्तुदोष नहीं होता है. इससे घर में पॉजिटिव एनर्जी (Positive Energy) आती है. इसके अलावा तुलसी का पौधा हेल्थ के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है. तुलसी से घर का वातावरण शुद्ध बना रहता है लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि तुलसी की माला पहनना भी बहुत अच्‍छा होता है. आइए आपको बताते हैं क्यों पहननी चाहिए तुलसी की माला.

Get-Detailed-Customised-Astrological-Report-on

मिलती है मानसिक शांति

कहते हैं कि अगर भगवान विष्णु और कृष्ण के भक्त तुलसी की माला को धारण करते हैं तो उन्हें काफी फायदा होता है. तुलसी की माला पहनने से मन शांत रहता है और आत्मा पवित्र होती है. तुलसी के बीजों की माला पहनना शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है. तुलसी मुख्य रूप से श्यामा तुलसी और रामा तुलसी दो प्रकार की होती है. श्यामा तुलसी की माला को धारण करने से मानसिक शांति मिलती है और मन में पॉजिटिविटी आती है. आध्यात्मिक के साथ ही साथ पारिवारिक तथा भौतिक उन्नति भी होती है. ईश्वर के प्रति श्रद्धा और भक्ति भाव बढ़ता है. वहीं रामा तुलसी की माला को धारण करने से व्यक्ति के अंदर आत्मविश्वास बढ़ता है और सात्विक भावनाएं जागृत होती हैं. कर्तव्य पालन के प्रति मदद मिलती है.

हालांकि तुलसी की माला पहनने की धार्मिक मान्‍यता भी है लेकिन इसमें विद्युत शक्ति भी होती है. गले में तुलसी की माला पहनने से शरीर निर्मल होता है, जीवनशक्ति बढ़ती है और बहुत सी बीमारियां दूर होती हैं. तुलसी माला पहनने से व्यक्ति की डाइजेशन पावर, बुखार, जुकाम, सिरदर्द, स्किन इंफेक्शन, दिमाग की बीमारियों और गैस से संबंधित अनेक बीमारियों में फायदा मिलता है. साथ ही इन्‍फेक्‍शन से होने वाली बीमारी से भी बचा जाता है.

ब्‍लड प्रेशर रहता है कंट्रोल में

तुलसी एक अद्‍भुत औषधि है जिससे ब्लड प्रेशर व डाइजेशन बेहतर होता है. तुलसी को धारण करने से शरीर में विद्युतशक्ति का प्रवाह बढ़ता है. गले में तुलसी की माला पहनने से विद्युत तरंगे निकलती हैं जो ब्‍लड सर्कुलेशन में रुकावट नहीं आने देती हैं. इसके अलावा मलेरिया तथा अन्य प्रकार के बुखारों में तुलसी बहुत फायदेमंद होती है.

मानससिक स्वास्थ्य होता है बेहतर

मान्यता है कि तुलसी की माला पहनने से मानसिक शांति मिलती है. इसे गले में पहनने से जरूरी एक्यूप्रेशर प्वाइंट्स पर प्रेशर पड़ता है, जिससे मानसिक तनाव में फायदा होता है. संक्रामक रोगों से रक्षा होती है. तुलसी मेमोरी को बढ़ाने में मदद करती है. तुलसी का धार्मिक और आयुर्वेदिक महत्व भी है. यह एंटीबायोटिक, दर्द-निवारक और इम्‍यूनिटी क्षमता बढ़ाने में भी फायदेमंद होती है.

Ask-a-Question-with-our-Expert-Astrologer-min

पीलिया में फायदेमंद

पीलिया में तुलसी की माला पहनना हेल्‍थ के लिए अच्‍छा माना जाता है. मान्यता है कि तुलसी की माला में इतनी शक्ति होती है कि वह शरीर से पीलिया के रोग को जल्दी खत्म कर देती है. ऐसा कहा जाता है कि कॉटन के सफेद धागे में तुलसी की लकड़ी बांध कर पहना जाए तो पीलिया का रोग जल्दी से कम हो जाता है और व्यक्ति स्वस्थ होने लगता है. अन्य खबरों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

स्रोतhindi.news18.com
पिछला लेखसूर्यदेव की पूजा के बाद जरूर पढ़ें सूर्य चालीसा, होगा यश-गान और मिलेगा सम्मान
अगला लेखपहली लहर के खिलाफ पूरे हौसले से लड़ाई लड़ी, दूसरी लहर पर भी भारत विजय हासिल करेगा: PM