22 April World Earth Day: मनाने का कारण, थीम, साथ ही जानें कोरोना वायरस के बीच कैसे रखें धरती को सुरक्षित

विश्व पृथ्वी दिवस 2020

विश्वभर में 22 अप्रैल को  विश्व पृथ्वी दिवस (World Earth Day) मनाया जाता है। इस दिवस को मनाने के पीछे कारण है कि लोग पृथ्वी और पर्यावरण के प्रति जागरुक हो। जिससे हर कोई कदम से कदम मिलाकर पृथ्वी को बचाने का बचाने का संकल्प लें। इस दिन को मनाने के पीछे वैज्ञानिक और पर्यावरण संबंधी महत्व है। इसे उत्तरी गोलार्ध के वसंत तथा दक्षिणी गोलार्थ के पतझड़ के प्रतीक के रूप में मनाया जाता है।  जानें इस साल की थीम, मनाने का कारण और कैसे करें अपनी पृथ्वी को सुरक्षित।

यह भी पढ़े: इन 5 योगासनों के द्वारा बढ़ाएं बच्चों की एकाग्रता, स्वामी रामदेव से जानें तरीका

विश्व पृथ्वी दिवस  मनाने का कारण

विश्व पृथ्वी दिवस 22 अप्रैल 1970 से मनाया जा रहा है। इसकी शुरुआत एक अमेरिकी सीनेटर गेलॉर्ड नेल्सन ने की थी। साल 1969 में कैलिफोर्निया के सांता बारबरा में तेल रिसाव के कारण भारी बर्बादी हुई थी, जिससे वह बहुत आहत हुए और पर्यावरण संरक्षण को लेकर कुछ करने का फैसला लिया। 

22 जनवरी को समुद्र में तीन मिलियन गैलेन तेल रिसाव हुआ था, जिससे 10,000 सीबर्ड, डॉल्फिन, सील और सी लायन्स मारे गए थे। इसके बाद नेल्सन के आह्वाहन पर 22 अप्रैल 1970 को लगभग दो करोड़ अमेरिकी लोगों ने पृथ्वी दिवस के पहले आयोजन में भाग लिया था।     

विश्व पृथ्वी दिवस 2019 की थीम

इस साल की थीम है-  Climate Action

विषय जलवायु कार्रवाई…ये एक बड़ी चुनौती है लेकिन जलवायु परिवर्तन पर कार्रवाई के विशाल अवसरों ने इस मुद्दे को 50 वीं वर्षगांठ के लिए सबसे अधिक दबाव वाले विषय के रूप में प्रतिष्ठित किया है।

जलवायु परिवर्तन मानवता के भविष्य और जीवन-समर्थन प्रणालियों के लिए सबसे बड़ी चुनौती है जो हमारी दुनिया को रहने योग्य बनाता है

विश्व पृथ्वी दिवस के दिन क्या करें

पृथ्वी दिवस 2020 पर हम अपने जीवन को बदलने के साथ-साथ अपनी दुनिया को बदलने के लिए संकल्प लें कि  एक दिन के लिए नहीं हमेशा पृथ्वी को बचाने के लिए डिजिटल प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करेंगे।

कोरोनोवायरस हमें सोशल डिस्टेसिंग  रखने के लिए मजबूर कर सकता हैं, लेकिन यह हमारी आवाजों कम रखने के लिए मजबूर नहीं करेगा। दुनिया को बदलने वाली एकमात्र चीज एक नए तरीके से आगे बढ़ने के लिए एक साहसिक और एकीकृत मांग है। ऐसे में हम अलग-अलग हो सकते हैं, लेकिन डिजिटल मीडिया की शक्ति के माध्यम से, हम पहले से कहीं अधिक जुड़े हुए हैं।

22 अप्रैल को एक ग्लोबल डिजिटल मोबलाइजेशन में 24 घंटे में कुछ न कुछ कर सकते हैं।  पृथ्वी दिवस की 50वीं एनिवर्सरी में डिजिटल प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करें। इसके लिए आफ एक- दूसरे से पृथ्वी को सुरक्षित रखने के लिए कॉल, पेटिंग, गाने, वीडियो या फिर परफॉर्मेंस दे सकते है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है कि आप कहां को कौन हो या फिर तुम अकेले हो। हम सब साथ है क्योंकि सब मिलकर ही पृथ्वी को बचा सकते हैं।